जेट एयरवेज़ की कई उड़ानें रद्द

  • 9 सितंबर 2009
जेट एयरवेज़
Image caption जेट एयरवेज़ में इससे पहले स्टाफ़ की नौकरियां जाने को लेकर विवाद हो चुका है.

जेट एयरवेज़ में पायलटों के आंदोलन के कारण आज लगातार दूसरे दिन कई शहरों से तकरीबन सौ घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रद्द करना पडा है.

सुबह की लगभग सभी उड़ानें रद्द रहीं लेकिन यूरोप, ब्रिटेन और अमरीका के लिए उड़ानें तय समय पर जाएंगी.

जेट एयरवेज़ के प्रवक्ता ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को नियत समय पर रखने की कोशिश की जा रही है.

उनका कहना था, ‘‘ यूरोप, ग्रेट ब्रिटेन और उत्तरी अमरीका के लिए सभी उड़ानें नियत समय पर उड़ेंगी.’’

जेट एयरवेज़ का कहना है कि वो पायलटों से काम पर वापस लौटने के लिए कह रहे हैं और उन्हें आश्वस्त कर रहे हैं कि मामला बातचीत से सुलझाया जाएगा.

मुंबई में जेट एयरवेज़ के चीफ़ आपरेटिंग अधिकारी कैप्टन हामिद अली ने बताया कि जेट के क़रीब 50 प्रतिशत पायलट काम पर नहीं आए हैं.

उनका कहना था, '' मेरी जानकारी के अनुसार मुंबई हाई कोर्ट ने पायलटों को हड़ताल करने से मना किया है. हमने कोर्ट का ये फ़ैसला सभी पायलटों को भेजा है और उनसे काम पर आने का आग्रह किया है.''

जेट एयरवेज़ के प्रमुख नरेश गोयल ने नागरिक उडड्यन मंत्रि प्रफुल्ल पटेल से मुलाक़ात की है लेकिन समस्या के समाधान के फ़िलहाल आसार नज़र नहीं आ रहे हैं.

जेट एयरवेज़ के पायलटों ने यूनियन बनाने की पहल की थी जिसके बाद प्रबंधन और पायलटों के बीच तनातनी चल रही है.

प्रबंधन ने दो पायलटों को बर्खास्त कर दिया था जिसके विरोध में मंगलवार को चार सौ से अधिक पायलटों ने सामूहिक अवकाश ले लिया था.

उधर एयर इंडिया ने जेट की उड़ान से जा रहे भारतीय क्रिकेट टीम के बचाव में आई है. भारतीय क्रिकेट टीम को बुधवार को कोलंबो के लिए उड़ान भरनी थी जेट से लेकिन अब पायलटों के आंदोलन के कारण भारतीय टीम की उड़ान अधर में लटक गई थी.

एयर इंडिया ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए विशेष विमान की व्यवस्था कर दी है. यह विमान चेन्नई से बंगलौर जाएगा जहां कप्तान धोनी और ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को लेकर विमान कोलंबो रवाना होगा.

राजधानी दिल्ली में भी जेट की दस उड़ानें रद्द हुई हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार