शाहनवाज़ को भी अमरीकी वीज़ा

शाहनवाज़ हुसैन
Image caption वीज़ा न दिए जाने के पीछे प्रशासनिक कारण बताए गए हैं.

भारत के पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद शाहनवाज़ हुसैन को आखिरकार अमरीका जाने के लिए वीज़ा मिल गया है.

अब शाहनवाज़ हुसैन 20 से 31 अक्तूबर तक न्यूयॉर्क में होने वाले संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में हिस्सा ले सकेंगे.

सोमवार को शाहवनाज़ हुसैन ने बताया था कि उन्हें अमरीका जाने का वीज़ा नहीं दिया जा रहा है और इस कारण वे भारत सरकार के प्रतिनिधि के रूप में संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन में शामिल नहीं हो सकेंगे.

शाहनवाज़ के अलावा भारतीय प्रतिनिधिमंडल के बाकी सदस्यों को सोमवार तक वीज़ा दिए जाने की पुष्टि हो चुकी थी लेकिन शाहनवाज़ इससे वंचित थे.

भारत सरकार की ओर से भेजे जा रहे सांसदों के पाँच सदस्यी प्रतिनिधिमंडल में शाहनवाज़ के अलावा गिरिजा ब्यास, संजय निरूपम, इलंगोवन और अली अनवर को शामिल किया गया है.

बाकी चार सदस्यों को अमरीकी दूतावास ने वीज़ा दे दिया लेकिन शाहनवाज़ हुसैन को अभी वीज़ा देने से इनकार कर दिया था.

इस सिलसिले में बीबीसी से बात करते हुए शाहनवाज हुसैन ने वीज़ा न दिए जाने की पुष्टि की थी और कहा था कि वो सरकारी प्रतिनिधिमंडल का सदस्य होने के नाते वहां जा रहे हैं. पता नहीं दूतावास को हुसैन जैसे शब्दों पर ज़्यादा ही ऐतराज़ क्यों होता है.

उन्होंने बताया था कि प्रतिनिधिमंडल के बाकी चार सदस्य सोमवार रात ही दिल्ली से रवाना हो रहे हैं. भाजपा सांसद ने बताया कि वीज़ा न दिए जाने के पीछे प्रशासनिक प्रक्रिया को कारण बताया गया था.

पर सोमवार तक निरस्त रहा वीज़ा और लटकी रही प्रशासनिक प्रक्रिया मंगलवार को ही पूरी हो गई और शाहनवाज़ को वीज़ा दिए जाने का फैसला ले लिया गया.

शाहनवाज़ हुसैन इससे पहले तीन बार अमरीका की यात्रा कर चुके हैं और तीनों यात्राओं के दौरान न्यूयॉर्क जा चुके हैं.

संबंधित समाचार