भारत की सलाह, अभी ना जाएं पाकिस्तान

  • 27 अक्तूबर 2009

भारत के गृह मंत्रालय ने भारतीयों को सलाह दी है कि वो पाकिस्तान की यात्रा न करें.

Image caption भारत ने अपने यहां के लोगों से कहा है कि वो अभी पाकिस्तान जाने से बचें

यात्रा संबंधी ये सलाह पाकिस्तान में सुरक्षा के हालात को देखते हुए दी गई है.

पाकिस्तान में पिछले कुछ दिनों से चरमपंथी हमले बढ़े हैं और इन्हें देखते हुए भारत के गृह मंत्रालय ने कहा है कि इस वक़्त पाकिस्तान की यात्रा सुरक्षित नहीं मानी जा सकती और इसीलिए भारतीयों को चाहिए कि वो अभी पाकिस्तान कि यात्रा को टालें.

गृह मंत्रालय की सलाह में कहा गया है कि " भारत सरकार का विचार है कि मौजूदा हालात में जबकि पाकिस्तान में, खासकर वहां के पंजाब प्रांत में जहाँ सभी गुरूद्वारे स्थित हैं, लगातार हो रहे चरमपंथी हमलों को देखते हुए भारतीय श्रद्धालुओं के लिए पाकिस्तान की यात्रा, इस समय उचित नहीं है."

भारतीय गृह मंत्रालय ने परामर्श दिया है कि " इस समय सभी भारतीय तीर्थ के उद्देश्य से पाकिस्तान की यात्रा करने से तब तक बचें, जब तक वहां सुरक्षा की स्थिति में सुधार नहीं होता."

भारत में सिखों की शीर्ष संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी (एसजीपीसी) ने तीर्थयात्रा संबंधी भारत सरकार की चेतावनी पर प्रतिक्रिया दी है.

एसजीपीसी के सचिव सरदार दलमेघ सिंह ने कहा है कि " हमें अफ़सोस है कि पाकिस्तान के हालात की वजह से हमें पाकिस्तान की तीर्थयात्रा पर विचार करना होगा."

सोमवार को सिखों के गुरु, गुरु नानक देव का जन्मदिन है.

इस मौके पर हर साल 1800 से 3000 सिखों का जत्था पाकिस्तान के पंजाब में ननकाना साहब जाता है.

इस साल भी जत्थे का वहां जाने का कार्यक्रम है लेकिन अब भारत सरकार की सलाह के बाद एसजीपीसी इस यात्रा पर फिर से विचार करेगा.

पाकिस्तान में हाल के दिनों में चरमपंथी हमले बढ़े हैं.

ये हमले कथित तालेबान चरमपंथी कर रहे हैं और उन्होंने रावलपिंडी में सेना मुख्यालय और कामरा में परमाणु अड्डे समेत कई महत्त्वपूर्ण स्थानों को निशाना बनाया है.

इन हमलों में सिर्फ इसी महीने 190 से ज़्यादा लोग मारे गए हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार