काबुल: संयुक्त राष्ट्र के छह कर्मचारी मारे गए

  • 28 अक्तूबर 2009
काबुल
Image caption संयुक्त राष्ट्र प्रवक्ता ने कहा कि गेस्ट हाऊस पर हमला किया गया

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार सुबह संयुक्त राष्ट्र के एक गेस्ट हाउस पर हमला हुआ है जिसमें संयुक्त राष्ट्र के छह कर्मचारी मारे गए हैं और नौ लोग घायल हुए हैं.

अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार सुबह से ही कई धमाके सुने गए हैं और वहाँ गोलीबारी भी हुई है. कुछ इमारतों से धुँआ उठता देखा गया है.

पुलिस ने शहर के एक इलाक़े की पूरी तरह घेराबंदी कर दी है यानी उसे सील कर दिया है.

तालेबान ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स को भेजे गए एक टेक्स्ट मेसेज में कहा गया है - "कई तालेबान आत्मघाती हमलावरों ने काबुल में संयुक्त राष्ट्र कर्मचारियों को बंधक बना लिया है."

होटल पर भी हुआ हमला

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता एड्रियन एडवर्ड्स ने कहा कि काबुल में संयुक्त राष्ट्र के एक गेस्ट हाउस पर हमला हुआ जिसमें आम नागरिक और कर्मचारी ठहरते हैं. उनका कहना था कि तीन संयुक्त राष्ट्र कर्मचारी मारे गए हैं.

उनके अनुसार संयुक्त राष्ट्र अधिकारी बाक़ी के कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं.

संयुक्त राष्ट्र के एक अन्य प्रवक्ता अलीम सिद्दिक़ी ने बीबीसी को बताया, "जैसे ही संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारी गेस्ट हाउस से भागने की कोशिश कर रहे थे तभी इमारत के बाहर एक धमाका हुआ और गोलीबारी हुई."

एक अफ़ग़ान पुलिसकर्मी वहीद सिद्दीक़ी ने रॉयचटर्स समाचार एजेंसी को बताया कि 'इमारत के भीतर अब भी पाँच या छह चरमपंथी हो सकते हैं.'

शहर में सेरीना होटल पर गोलीबारी होनी ख़बरें भी मिली हैं. इस होटल में राजनयिक और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के कर्मचारी रहते हैं.

फ़िलहाल ये स्पष्ट नहीं है कि उस गोलीबारी में कोई हताहत हुआ है या नहीं. जिस समय वहाँ गोलीबारी हुई तब उस होटल में 100 लोग मौजूद थे.

चरमपंथियों ने कहा है कि ये हमला उनके अभियान का पहला कदम है ताकि दूसरी बार अफ़ग़ानिस्तान में सात नवंबर को हो रहे मतदान में रुकावटें पैदा की जा सकें.

संबंधित समाचार