येदियुरप्पा की मुश्किलें बरकरार

  • 8 नवंबर 2009
बीएस येदियुरप्पा
Image caption येदियुरप्पा अभी दिल्ली में ही रुके हुए हैं.

कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा की अगुआई में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की मुश्किलें कम नहीं हुई हैं.

हालाँकि मुख्यमंत्री येदियुरप्पा का कहना है कि रेड्डी बंधुओं की माँगों से उत्पन्न संकट का समाधान हो गया है.

शनिवार को वो माता वैष्णोदेवी का दर्शन करने गए थे लेकिन शाम को फिर दिल्ली लौट आए.

माना जा रहा है कि वो फिर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से बातचीत करेंगे.

संकट का समाधान निकलने के उनके दावे के बावजूद बाग़ी विधायकों ने बंगलौर में ये बयान दिया कि वे मुख्यमंत्री बदलने की अपनी माँग पर कायम हैं.

भाजपा के वरिष्ठ नेता वेंकैया नायडू ने शनिवार रात को येदियुरप्पा से बात करने के बाद कहा कि नेतृत्व परिवर्तन नहीं होगा और सभी मुद्दे सुलझा लिए जाएंगे.

उनका कहना था कि येदियुरप्पा रविवार को लाल कृष्ण आडवाणी के जन्मदिन पर उन्हें बधाई देना चाहते थे, इसलिए दिल्ली में रुके हुए हैं.

नायडू ने कहा, "दबाव में काम करने का सवाल नहीं है. लेकिन सहयोगियों ने अगर कुछ सवाल उठाए हैं तो उन्हें दरकिनार भी नहीं किया जा सकता."

लेकिन येदियुरप्पा और नायडू ने किसी तरह के संभावित समझौता फ़ॉर्मूले को बताने से इनकार कर दिया.

येदियुरप्पा ने कहा कि पार्टी नेतृत्व ने उन्हें राजनीतिक संकट पर बात करने से मना किया है.

संबंधित समाचार