गिलानी को कश्मीर में गिरफ़्तार किया गया

भारत प्रशासित कश्मीर में प्रमुख अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

उन्होंने बुधवार को कश्मीर विश्वविद्यालय के परिसर में छात्रों की एक रैली को संबोधित किया था. इसके बाद पुलिस ने सैयद गिलानी को हिरासत में ले लिया.

लेकिन नज़रबंद करने के बजाय गिलानी को गुरुवार शाम को श्रीनगर के केंद्रीय जेल में भेज दिया गया.

गिलानी ने भारत सरकार के साथ बातचीत की पेशकश ठुकरा दी थी.

त्रिपक्षीय बातचीत की माँग

हाल ही में भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कश्मीर दौरे पर आए थे और कहा था कि जो कोई भी हिंसा छोड़ देगा वो उससे बातचीत करने को तैयार हैं.

गिलानी ने भारत, पाकिस्तान और कश्मीरी नेताओं के बीच त्रिपक्षीय बातचीत की माँग की है.

नरमपंथी विचारधारा वाले अलगाववादी नेता शब्बीर शाह भी गिलानी की इस मांग का समर्थन करते हैं.

भारत सरकार के साथ बातचीत करने वाले शब्बीर शाह पहले अलगाववादी नेता थे, हालांकि उनका कहना है कि बातचीत से कोई फ़ायदा नहीं हुआ है.

सईद अली शाह गिलानी ने कश्मीर से भारतीय सेना को हटाए जाने के लिए राजनीतिक अभियान छेड़ा हुआ है.

गिलानी भारत प्रशासित कश्मीर के सबसे प्रभावशाली अलगाववादी नेताओं में गिने जाते हैं और कट्टरपंथी धड़ों पर उनकी अच्छी पकड़ बताई जाती है.

संबंधित समाचार