हेडली मामले की जाँच जारी

पी चिदंबरम
Image caption भारत ने कहा है कि अब वह हेडली के प्रत्यार्पण के लिए प्रयास करेगा

लश्कर-ए-तैबा के संदिग्ध सदस्य डेविड कोलमैन हेडली के बारे में भारत के गृहमंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि ख़ुफ़िया अधिकारी अमरीका से 'अच्छी जानकारियाँ' लेकर लौटे हैं.

हालांकि इसके विवरण देने से इनकार करते हुए उन्होने कहा है कि जाँच जारी है और समय आने पर इसके विवरण दिए जाएँगे.

उल्लेखनीय है पाकिस्तानी मूल के अमरीकी नागरिक डेविड कोलमैन हेडली को अमरीकी जाँच एजेंसी एफ़बीआई ने गिरफ़्तार किया है.

यह गिरफ़्तारी लश्कर-ए-तैबा के उस कथित षडयंत्र के पर्दाफ़ाश होने के बाद की गई है जिसमें डेविड कोलमैन हेडली को भारत में चरमपंथी हमलों के लिए इस्तेमाल करने की साज़िश थी.

ये जानकारियाँ सार्वजनिक की जा चुकी हैं कि डेविड हेडली ने कई बार भारत की यात्राएँ की थीं और वह दिल्ली-मुंबई में भी कई बार आकर रह चुका है.

भारत में इस मामले की जाँच का काम केंद्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) को सौंपी जा चुकी है और एनआईए ने डेविड हेडली के ख़िलाफ़ मामला भी दर्ज किया है.

'क्रिकेट मैच नहीं'

पत्रकारों से चर्चा करते हुए गृहमंत्री चिदंबरम ने कहा, "अधिकारियों की अमरीका यात्रा अच्छी रही और वे डेविड हेडली के बारे में अच्छी जानकारियाँ लेकर लौटे हैं."

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार यह पूछे जाने पर कि क्या उसका संबंध मुंबई में पिछले साल हुए हमलों में भी था, गृहमंत्री ने कहा, "यह कोई क्रिकेट मैच नहीं है, जिसमें गेंद दर गेंद जानकारियाँ दी जाती हैं. जाँच जारी है और जब जाँच पूरी हो जाएगी तो इसके वो सब विवरण दे दिए जाएँगे जो दिए जा सकते हैं."

पी चिदंबरम ने यह बयान भारत में ख़ुफ़िया जानकारियाँ एकत्रित करने वाली एजेंसी इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख़ुफ़िया जानकारियाँ इकट्ठी करने वाली एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) के अधिकारी इस महीने की शुरुआत में अमरीका गए थे.

ये अधिकारी अमरीकी जाँच एजेंसी एफ़बीआई के अधिकारियों से मिले थे और उन्होंने भारत में हमले की साजिश के बारे में डेविड हेडली की योजनाओं के विवरण हासिल किए हैं.

इन जानकारियों के आधार पर भारतीय एजेंसियों ने उन व्यक्तियों के बारे में जाँच शुरु कर दी है जिनसे हेडली ने दिल्ली और मुंबई आदि शहरों में मिलते रहे.

संबंधित समाचार