प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

आपकी बात बीबीसी के साथ

क्या भारतीय राजनीति में अवसरवादिता बेलगाम होती जा रही है. ऐसे कितने मामले हम रोज़ देखते हैं. क्या जनता के पास इन्हें ठुकराने के लिए विकल्प नहीं है या मुद्दा और भी अधिक पेचीदा है. इस पर बीबीसी के श्रोताओं के सवालों के जवाब दिए समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता आज़म ख़ान और आईबीएन लोकमत के संपादक निखिल वागले ने.