झारखंड में 50 से 55 फ़ीसदी मतदान

झारखंड (फ़ाइल फोटो)
Image caption कई मतदान केंद्रों का स्थान बदला गया है

झारखंड में शुक्रवार को विधानसभा के आख़िरी चरण के मतदान में 50 से 55 फ़ीसदी लोगों ने मत डाले. इस दौरान हुए बारूदी सुरंग हमले में तीन सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं.

यह घटना पलामू ज़िले के हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र के मोहम्मदगंज थाना के अंतर्गत महूर जंगल में हुई.

झारखंड पुलिस के प्रवक्ता वीएस देशमुख का कहना है कि लगभग 1500 माओवादियों ने इस हमले को अंजाम दिया.

गुरुवार की रात गढ़वा विधानसभा के एक प्रत्याशी राजेश कुमार फ़ंटूश को माओवादियों ने अग़वा कर लिया था. वे नौजवान संघर्ष मोर्चा से चुनाव मैदान में हैं.

पाँचवें और अंतिम चरण के चुनाव में 16 विधानसभा सीटों के लिए मत डाले गए. इस चरण में 290 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे.

माओवादियों के मतदान बहिष्कार की धमकी के बीच कई विधानसभा क्षेत्रों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी. लगभग 7500 अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था.

चुनाव आयोग के निर्देश पर केंद्र ने झारखंड विधानसभा चुनाव में अर्धसैनिक बल की 300 कंपनियाँ राज्य में भेजी थी.

झारखंड में पहले दौर का मतदान 25 नवंबर को, दूसरे दौर का मतदान दो दिसंबर को, तीसरे दौर का आठ दिसंबर को और चौथे दौर का मतदान 12 दिसंबर को हुआ था.

आधिकारिक आँकड़ों के मुताबिक पहले दौर में 53.1 फ़ीसदी, दूसरे दौर में 58.8 फ़ीसदी, तीसरे दौर में 57.2 फ़ीसदी और चौथे दौर में 64.3 फ़ीसदी मतदान हुआ था.

राज्य विधानसभा के लिए मतगणना 23 दिसंबर को होगी.

संबंधित समाचार