हबीब को मिली ज़मानत

हबीब
Image caption हबीब का पासपोर्ट सऊदी अरब में उसके नियोक्ता ने छीन लिया था.

सऊदी अरब से एयर इंडिया के विमान के शौचालय में छुपकर भारत पहुँचे उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के रहने वाले हबीब हुसैन को अदालत ने जमानत दे दी है.

हबीब को 25 दिसंबर को जयपुर हवाई अड्डे पर उस समय हिरासत में लेकर गिरफ्तार कर लिया गया था जब वे बिना पासपोर्ट के विमान में यात्रा करते पाए गए थे.

वे उसी समय से जयपुर के केंद्रीय कारागार में बंद थे. उनके परिजनों ने अदालत के इस आदेश पर ख़ुशी का इज़हार किया है.

वकील की दलील

जयपुर की ज़िला अदालत ने हबीब हुसैन की ज़मानत अर्जी पर सुनवाई के बाद गुरुवार को उन्हें रिहा करने के आदेश दिए.

इसके पहले जयपुर के उपनगर सांगानेर की स्थानीय अदालत ने उनकी जमानत याचिका यह कह कर ख़ारिज कर दी थी कि यह एक गंभीर मामला है.

हबीब के वकील अश्विनी मिश्र ने अदालत में कहा कि हबीब बेगुनाह हैं और भारतीय नागरिक है. उनके पास भारतीय पासपोर्ट है, जिसे सऊदी अरब में उनके मालिक ने छीन लिया था.

उन्होंने कहा कि ऐसे में हबीब के पास अपने देश आने के लिए कोई रास्ता नहीं बचा था. यह एक मिसाल है कि कैसे विदेश में एक भारतीय के साथ नाइंसाफी हुई.

हबीब के वकील ने अदालत के सामने वे दस्तावेज़ रखे जो उनके भारतीय होने का सबूत देते थे.

वकील ने कहा कि हबीब को पासपोर्ट क़ानून के तहत गिरफ़्तार किया गया है. इस क़ानून में सजा के साथ जुर्माने का प्रावधान है जो बताता है कि क़ानून में ऐसे मामलों में लचीला रुख़ अपनाने की गुंज़ाइश है.

हबीब सात दिन तक पुलिस की हिरासत में रहे, बाद में उन्हें जेल भेज दिया गया.

इस दौरान भारत की कई जाँच एजंसियों ने उससे पूछताछ की. जयपुर पुलिस हबीब का यह बयान सच मानती है कि वह मज़बूरी में विमान में बिना पासपोर्ट के सवार हुआ था.

संबंधित समाचार