छात्रों को डिग्री मिलेगी: सिब्बल

कपिल सिब्बल
Image caption कपिल सिब्बल ने संकेत दिए हैं कि डीम्ड विश्वविद्यालयों की अवधारणा ही ख़त्म की जा सकती है

मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल का कहना है कि जिन डीम्ड विश्वविद्यालयों की मान्यता ख़त्म की जाएगी उनके सभी छात्रों को भी डिग्री मिलेगी.

ग़ौरतलब है कि भारत सरकार ने पूरे देश में फैले 44 डीम्ड विश्वविद्यालयों की मान्यता ख़त्म करने का निर्णय लिया है जिससे इन विश्वविद्यालयों के हज़ारों छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया है.

कपिल सिब्बल ने कहा, "इन विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले एक भी छात्र पर इस निर्णय का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. सभी छात्रों को एक यूनिवर्सिटी की डिग्री मिलेगी."

उन्होंने इस बात की ओर इशारा किया कि डीम्ड विश्वविद्यालय की अवधारणा को ख़त्म किया जा सकता है.

डीम्ड विश्वविद्यालय ऐसे स्वायत्त विश्वविद्यालय होते हैं जो किसी अन्य विश्वविद्यालय से संबद्ध नहीं होते और उन्हें अपने कोर्स आदि तय करने का अधिकार होता है. हालांकि उन्हें अपने कोर्स की यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) से पुष्टि करवानी होती है.

विरोध प्रदर्शन

उधर सरकार के इस फ़ैसेले के विरोध में मंगलवार को तमिलनाडु में छात्रों ने प्रदर्शन किया.

सोमवार को उच्चतम न्यायालय में दाख़िल एक हलफनामे में मानव संसाधन मंत्रालय ने कहा था कि 13 राज्यों में फैले 44 डीम्ड विश्वविद्यालयों को उनकी मान्यता ख़त्म की जाएगी.

एक विशेष समिति ने देश के अंदर फैले 126 डीम्ड विश्वविद्यालयों के कार्य प्रणाली की समीक्षा की थी जिसमें उन्होंने 44 विश्वविद्यालयों को अयोग्य माना है.

इस समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इन डीम्ड विश्वविद्यालयों को पारिवारिक कारोबार की तरह चलाया जा रहा है और इनके पीछे कोई अकादमिक नज़िरया नहीं है.

संबंधित समाचार