समाजवादी नेता जनेश्वर मिश्र का निधन

जनेश्वर मिश्र
Image caption जनेश्वर मिश्र को जूनियर लोहिया भी कहा जाता था

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्य सभा सांसद जनेश्वर मिश्र का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया है. वे 76 वर्ष के थे.

जनेश्वर मिश्र ने इलाहाबाद के एक अस्पताल में शुक्रवार को अंतिम सांस ली.

जनेश्वर मिश्र को भारत के एक सम्मानित समाजवादी नेता और 'जूनियर लोहिया' के रुप में जाना जाता था.

उन्होंने अपनी राजनीति की शुरुआत समाजसेवा से की. वे पहली बार वर्ष 1969 में चौथी लोकसभा के लिए इलाहाबाद की फूलपुर लोकसभा सीट से निर्वाचित हुए. फूलपुर से निर्वाचित होने वाले वो पहले ग़ैर-कांग्रेसी सांसद थे.

'जूनियर लोहिया'

जनेश्वर मिश्र राममनोहर लोहिया के नेतृत्ल वाले आंदलोन में सक्रिय दिलचस्पी रखते थे और इसी कारण उन्हें 'जूनियर लोहिया' भी कहा जाता था.

उन्होंने कई बड़ी रैलियों का नेतृत्व किया और आपातकाल के दिनों में जेल भी गए.

वे मोरारजी देसाई, चौधरी चरण सिंह, विश्वनाथ प्रताप सिंह, चंद्रशेखर सिंह, देवेगौड़ा और इंद्र कुमार गुजराल की सरकारों में राज्य मंत्री बनाए गए.

जनेश्वर मिश्र उस समय ज़्यादा चर्चा में आए, जब उन्होंने 1977 के लोकसभा चुनावों में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और उस समय के वरिष्ठ नेता विश्वनाथ प्रताप सिंह को भारी मतों से पराजित किया.

वे संसद के दोनों सदनों राज्य सभा और लोकसभा के कई बार सदस्य रहे.

संबंधित समाचार