महाकुंभ का पहला शाही स्नान

हरिद्वार
Image caption लगभग बीस लाख लोगों के जुटने के आसार

हरिद्वार में शुक्रवार को महाकुंभ का पहला शाही स्नान हो रहा है. अनुमान के मुताबिक लगभग बीस लाख श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाएंगे.

शुक्रवार को महाशिवरात्रि होने से शाही स्नान का महत्व बढ़ गया है.

हर की पैरी पर सुबह तीन बजे से ही आम लोगों का जुटना शुरु हो गया क्योंकि आठ बजे के बाद आम लोगों को ब्रह्म कुंड में डुबकी लगाने की इजाज़त नहीं मिली.

Image caption शाही स्नान के दौरान नगा साधु आकर्षण के केंद्र में होंगे.

आठ बजे से ब्रह्म कुंड में सिर्फ़ नगा साधु शाही स्नान कर रहे हैं.

पूरे कुंभ में आकर्षण का केंद्र बने नगा साधुओं के अखारे गाजे-बाजे और जुलूस के साथ गंगा घाट पर पहुँच रहे हैं.

कुंभ देखने भारी संख्या में विदेशी यात्री भी आए हैं.

श्रद्धालुओं की भारी तादाद को देखते हुए इस बार 15 किलोमीटर लंबा घाट बनाया गया है.

मेला के पुलिस अधिकारी आलोक शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को 15 से 20 लाख लोग स्नान करेंगे.

उन्होंने बताया कि भीड़ नियंत्रण के पूरे इंतज़ाम है. जगह-जगह चक्रव्यूह बनाए गए हैं ताकि भगदड़ न मचे.

लोगों को बैग या भारी भरकम सामान लेकर गंगा घाट पर पुहँचने की इजाज़त नहीं दी गई है.

सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दस हज़ार पुलिसकर्मी और अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है.

संबंधित समाचार