पुणे धमाके पर गृह मंत्रालय का बयान

  • 14 फरवरी 2010
जीके पिल्ले
Image caption गृह सचिव ने कहा गृह मंत्री चिदंबरम तमिलनाडु से स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं

भारत के केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पुणे में शनिवार रात हुए धमाके के बारे में एक संवाददाता सम्मेलन के ज़रिए बयान जारी किया है और पुणे में स्थिति और राज्य और केंद्र सरकार की सलाह के बारे में जानकारी दी है. मीडिया के साथ गृह सचिव ने जो कहा वो इस तरह है:

"पुणे में भारतीय समयानुसार लगभग 7.30 बजे बम या विस्फोटक धमाका हुआ. पुणे स्थित एक जर्मन बेकरी में एक लावारिस पैकेज देखा गया और जब एक वेटर ने उसे खोलने की कोशिश की तो धमाका हुआ.

महाराष्ट्र की राज्य पुलिस और महाराष्ट्र स्पेशल स्क्वॉड घटनास्थल पर हैं. पूरे मामले की जाँच हो रही है. केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) की टीम पुणे पहुँच रही है ताकि स्थानीय पुलिस की मदद की जा सके.

घटनास्थल ओशो आश्रम से लगभग 200 गज़ के फ़ासले पर है. ध्यान रहे कि कथित लश्करे तैबा कार्यकर्ता डेविड हेडली ने इस जगह का ज़िक्र किया था और ये जानकारी महाराष्ट्र पुलिस को दी गई थी.

महाराष्ट्र पुलिस ने पूरे राज्य के लिए आम लोगों को एडवाइसरी यानी सलाह जारी की है. केंद्र सरकार ने पूरे देश में हाई एलर्ट घोषित किया है. आम नागरिकों को चेतावनी दी गई है कि वे किसी भी लावारिस पैकेज या वस्तु को खोलने की कोशिश न करें.

केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम तमिलनाडु से लगातार संपर्क में हैं और स्थिति का जायज़ा लिया जा रहा है.

अब तक हुई जाँच के मुताबिक हम एक विदेशी नागरिक के मारे जाने और एक के घायल होने की पुष्टि कर सकते हैं. फ़िलहाल इस घटना में हताहत हुए किसी अन्य विदेशी नागरिक की नागरिकता की पुष्टि नहीं हो पाई है."

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार