एसआईटी के समक्ष पेश हो सकते हैं मोदी

  • 27 मार्च 2010
नरेंद्र मोदी
Image caption नरेंद्र मोदी पर गुजरात में 2002 में हुए दंगों को शह देने का आरोप लगता रहा है.

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में 2002 में हुए दंगों के मामले में विशेष जांच टीम के समक्ष पूछताछ के लिए पेश हो सकते हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने एसआईटी के सूत्रों के हवाले से कहा है कि मुख्यमंत्री मोदी शनिवार को आ सकते हैं.

ख़बरों के अनुसार एसआईटी कार्यालय में शुक्रवार को काफ़ी तैयारियां चल रही थीं और कहा जा रहा है एसआईटी के सभी सदस्य शनिवार को मौजूद रहेंगे.

इससे पहले मोदी को सलाह दे रहे महेश जेठमलानी ने कहा था कि 27 मार्च की तारीख पर सहमति और इस दिन मोदी एसआईटी के समक्ष पेश हो सकते हैं.

हालांकि फिलहाल ऐसा नहीं लगता कि एसआईटी उनसे इस कार्यालय में पूछताछ करेगा क्योंकि यह अत्यधिक सुरक्षित नहीं है.

एसआईटी ने गुलबर्गा सोसायटी हत्याकांड मामले में जकिया जाफरी की शिकायत पर मोदी को पूछताछ के लिए बुलाया है. 2002 में हुए दंगों के दौरान गुलबर्ग सोसायटी में लोगों ने कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी कई अन्य लोगों के साथ जान से मार दिया था.

संबंधित समाचार