जया ने टिकट लौटाया

  • 28 मई 2010
Image caption अमर सिंह बच्चन परिवार के काफ़ी करीबी हैं

समाजवादी पार्टी के सूत्रों के मुताबिक जया बच्चन ने राज्यसभा का टिकट छोड़ने का फ़ैसला किया है. बताया जा रहा है कि जया बच्चन ने ऐसा परिवार के साथ सलाह मशविरे के बाद किया है.

सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह ने कहा है कि अमिताभ बच्चन ने जया बच्चन को चुनाव में खड़े होने से मना किया है. मुलायम का कहना था, "अमिताभ चाहते हैं कि जया बच्चन अभी कुछ दिन आराम करें. दरअसल अमिताभ को राजनीति पसंद नहीं है. हमने पहले भी उनको आग्रह किया था राजनीति से जुड़ने के लिए और उन्होंने माना था. अगर दोबारा ज़रूरत पड़ेगी तो फिर कहेंगे."

अभी दो दिन पहले ही सपा ने घोषणा की थी कि जया बच्चन फिर से राज्यसभा के लिए पार्टी की उम्मीदवार होंगी.

समाजवादी पार्टी के निष्कासित महासचिव अमर सिंह से बच्चन परिवार के करीबी रिश्ते हैं और माना जा रहा है कि इसी को ध्यान में रखते हुए जया बच्चन की ओर से टिकिट छोड़ने का फ़ैसला किया गया है.

सपा के उत्तर प्रदेश ईकाई के अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने कहा है कि अब जया बच्चन की जगह मोहन सिंह उम्मीदवार बनाए जाएँगे.

वैसे जब सपा ने जया बच्चन को राज्य सभा से दोबारा उम्मीदवार बनाने की घोषणा की थी तभी से इस फ़ैसले पर हैरानी जताई जा रही थी. क्योंकि बहुत सारे लोगों का मानना था कि अमर सिंह से अच्छे रिश्ते होने के कारण सपा शायद जया बच्चन को राज्यसभा की सीट न दे.

दस जून को राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव होने हैं.जया बच्चन सहित समाजवादी पार्टी के सात सदस्यों का कार्यकाल जुलाई में पूरा होने जा रहा है.

नए समीकरणों के अनुसार अब राज्य से समाजवादी पार्टी के दो ही सदस्य चुने जा सकते हैं.

राज्य विधानसभा में विधायकों की संख्या घटने से इस बार समाजवादी पार्टी के लिए राज्यसभा में सीटों की संख्या कम हो गई है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार