कश्मीर के सोपोर में कर्फ़्यू लगी

भारत प्रशासित कश्मीर
Image caption भारत प्रशासित कश्मीर में प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों में झड़प आम बात है

भारत प्रशासित कश्मीर के सोपोर में ज़िला प्रशासन ने अनिश्चित कालीन कर्फ़्यू लगा दिया है.

इसकी घोषणा भारतीय समयानुसार शनिवार की सुबह तीन बजे की गई.

पृथ्क्तावादी संगठन हुर्रियत कांफ़्रेंस ने शनिवार को कश्मीर बंद का आह्वान किया है जिसको देखते हुए प्रशासन ने ये क़दम उठाया है.

शुक्रवार को राजधानी श्रीनगर से 50 किलोमीटर उत्तर सोपोर में भारत विरोधी प्रदर्शन के दौरान पुलिस फ़ायरिंग में दो लोगों की मौत हो गई थी और तीन लोग घायल हो गए थे.

पुलिस फ़ायरिंग के विरोध में ही कश्मीर बंद का आह्वान किया गया है.

इस बंद को हुर्रियत के दोनो गुटों का समर्थन हासिल है.

पुलिस महानिरिक्षक फ़ारूक़ अहमद ने बीबीसी को बताया कि प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए थे और उन्होंने केंद्रीय सुरक्षा बल की एक जीप को आग लगा दी और पत्थर फेकें. फ़ारूक़ अहमद ने कहा कि मास्क पहने दो लोगों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां भी चलाई. जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी फ़ायरिंग की जिसके नतीजे में दो लोगों की मृत्यु हो गई और तीन अन्य घायल हो गए.

लेकिन प्रदर्शनकारियों की तरफ़ से भी फ़ायरिंग हुई थी पुलिस के इस दावे की पुष्टि किसी दूसरे स्रोत से अभी तक नहीं हो पाई है.

'कश्मीर छोड़ो'

ये घटना उस समय हुई जब पृथ्क्तावादी संगठन हुर्रियत कांफ़्रेंस (गिलानी गुट) के आह्वान पर घाटी में पूरी तरह बंद मनाया जा रहा था.

गिलानी गुट ने शुक्रवार से कश्मीर छोड़ो आंदोलन का नारा दिया था और इसकी शुरूआत शुक्रवार को बंद के आह्वान से हुई.

हुर्रियत ने सोमवार को सोपोर चलो का भी नारा दिया है.

संबंधित समाचार