नक्सली समस्या पर बैठक

  • 14 जुलाई 2010
एक नक्सली
Image caption बैठक में नक्सल समस्या से निपटने की रणनीति की समीक्षा की जाएगी

दिल्ली में वुधवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक बैठक कर रहे हैं. बैठक में नक्सल समस्या से निपटने की रणनीति की समीक्षा की जाएगी.

झारखंड में राष्ट्रपति शासन की वजह से राज्य के राज्यपाल इस बैठक में शिरकत करेंगे. कुछ ख़बरों के मुताबिक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य इस बैठक में शामिल नहीं होंगे हांलाकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है.

बैठक में ये विचार किया जाएगा कि कैसे नक्सलियों के ख़िलाफ़ अभियान को सघन बनाया जाए. ख़ासतौर नक्सल प्रभावित राज्यों में आपसी सहयोग पर भी चर्चा होगी.

साथ ही केंद्रीय सुरक्षा बलों और राज्य पुलिस बलों के बीच तालमेल पर भी विचार किया जाएगा. हाल में हुए कुछ नक्सली हमलों के बाद राज्य और केंद्रीय सुरक्षा बलों के बीच समन्वय पर सवाल उठते रहे हैं.

ग़ौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सली हमले के बाद राज्य के डीजीपी ने एक बयान में कहा था कि वे केंद्रीय सुरक्षा बलों को चलना नहीं सिखा सकते हैं. दूसरी ओर सीआरपीएफ़ ने अपनी पत्रिका में एक आईजी स्तर की अधिकारी ने आरोप लगाया था कि उनके जवान छत्तीसगढ़ में अमानवीय स्थिती में रह रहे हैं.

रायपुर में बीबीसी संवाददाता सलमान रावी के मुताबिक इस बैठक में राज्यों के पुलिस महानिदेशक भी शामिल हो रहे हैं और विभिन्न सुरक्षा बलों के बीच आपसी सहयोग के मुद्दे पर गहन मंथन हो सकता है.

बैठक में राज्य पुलिस बलों के आधुनिकीकरण पर ज़ोर दिया जाएगा साथ ही नक्सली समस्या ने निबटने के लिए आंध्र प्रदेश की तर्ज पर ग्रेहाउंड्स जैसे विशेष पुलिस बल के गठन की संभावनाएं भी तलाशी जा सकतीं हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार