गडकरी ने कांग्रेस सरकार को कोसा

  • 26 जुलाई 2010
नितिन गडकरी
Image caption गडकरी ने कहा कि कांग्रेस गुजरात पर निशाना साध रही है

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष नितिन गडकरी ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस ने सीबीआई की मदद से भाजपा के खिलाफ़ जंग छेड़ रखी है और पार्टी इसका उचित जवाब देगी.

मुंबई में एक संवाददाता सम्मेलन में गड़करी ने कहा कि यूपीए के शासनकाल में आतंकवादियों को बिरयानी खिलाई जाती है और देशभक्त पुलिस वालों और उनके राजनीतिक स्वामियों के साथ मुलज़िमों की तरह व्यवहार किया जाता है.

गडकरी ने कहा कि सीबीआई ने अमित शाह के खिलाफ़ बातें मीडिया को लीक की हैं. उन्होंने सीबीआई पर आरोप लगाया कि वो गुजरात सरकार को निशाना बना रही है और कांग्रेस के इशारे पर काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि यूपीए ने सीबीआई का इस्तेमाल अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ़ किया है, जो राजनीतिक साथी हैं, उन्हें बचाने का काम किया है.

इसके लिए उन्होंने क्वात्रोच्चि और वॉरेन एंडरसन मामलों के अलावा मुलायम सिंह यादव, जयललिता और मायावती के खिलाफ़ चल रहे सीबीआई मामलों का हवाला दिया.

गडकरी ने कहा कि सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले से आंध्र प्रदेश की कांग्रेस सरकार को दूर रखा गया, बावजूद इसके कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ कहा था कि गुजरात सरकार की जाँच से नहीं पता चल पाया था कि सोहराबुद्दीन के साथ रहे आंध्र पुलिस के सात लोग कौन थे. ये उन कारणों में से एक था जिसकी वजह से केस सीबीआई को सौंपा गया था...

गडकरी ने कहा कि "सोहराबुद्दीन एक आतंकवादी था और उसके खिलाफ़ कई राज्यों में मुक़दमे चल रहे थे."

उन्होंने कहा कि देश के कई राज्यों में नकली मुठभेड़ों की बात सामने आई है और इनमें कांग्रेस शासित राज्य भी हैं, लेकिन सिर्फ़ गुजरात को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सीबीआई कई कहानियाँ फ़ैला रही है, जिनसे लगता है कि अन्य भाजपा नेताओं के खिलाफ़ भी उसका कुछ एजेंडा है.

गडकरी ने कहा कि सरकार ने इशरत जहाँ के बारे में अदालत के सामने पहले एक पक्ष रखा और फिर वोट बैंक पॉलिटिक्स की वजह से अपना पक्ष बदल दिया.

संबंधित समाचार