माँ ने मानी क़त्ल की बात

  • 29 जुलाई 2010
डॉमनिक़ कॉटरेज़
Image caption कॉटरेज़ ने अपने बच्चों का दम घोंटना स्वीकार किया है

फ़्रांस में एक महिला ने अपने आठ नवजात बच्चों की दम घोंटकर हत्या की बात स्वीकार कर ली है. अभियोजन पक्ष के वकील ने इसकी जानकारी दी है. इस महिला ने कहा है कि उनके पति को इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी.

इस मामले में 47 वर्षीय डॉमिनीक कॉटरेज़ के ख़िलाफ़ जाँच चल रही है, लेकिन उनके पति को बिना किसी आरोप के बरी कर दिया गया था.

शुरू में कॉटरेज़ पर ये मामला चल रहा था कि उन्होंने शवों को कथित रूप से छिपाया और अपराध की जानकारी नहीं दी.

इन बच्चों के अवशेष उत्तरी शहर लिली के एक गाँव में पाए गए थे.

आरोप

इस मामले में अभियोजन पक्ष ने हत्या की सूचना न देने और इसे अपने पति से छिपाने का आरोप लगाने का अनुरोध किया था लेकिन जाँच मजिस्ट्रेट ने इसके विपरीत आरोप लगाए.

बुधवार को पुलिस ने खोजी कुत्तों के साथ लिली के एक गाँव के दो घरों में जाँच-पड़ताल की थी.

इनमें से एक घर के नए मालिक ने अपने बगीचे में कुछ अवशेष पाए जाने के बाद जाँचकर्ताओं को बुलाया था. यह घर गिरफ़्तार महिला के माता-पिता का था.

इसके बाद पुलिस ने गाँव के ही एक दूसरे घर की तलाशी ली जो गिरफ़्तार दंपत्ति का है. यहाँ से और बच्चों के शव मिले.

एक संवाददाता सम्मेलन में अभियोजन पक्ष के वकील ने कहा,''डॉमनिक़ कॉटरेज़ ने कहा है कि वह अपनी गर्भावस्था को जानती थी. वह और बच्चे नहीं चाहती थी और न ही गर्भनिरोधक उपायों के लिए किसी डॉक्टर की मदद लेने को तैयार थी.''

डॉक्टर से डर

वकील ने कहा,'' डॉमनिक़ कॉटरेज़ ने कहा है कि अधिक वज़न के कारण उसे पहले प्रसव में काफ़ी परेशानी हुई थी और अब वह डॉक्टर को नहीं देखना चाहती थी. वह गर्भावस्था और बच्चों को जन्म देते समय अकेले थी.''

पहले घर में मिले दो बच्चों के अवशेष प्लास्टिक के थैले में लिपटे हुए थे और दूसरे घर के गैराज से मिले छह बच्चों के अवशेष अन्य सामान के साथ प्लास्टिक बैग में बंद थे.

ऐसा कहा जा रहा है कि इन बच्चों के जन्म 1989 और 2006-2007 के बीच हुए. लेकिन वकील ने कहा कि आगे की जाँच में सही तारीख़ का पता लग जाएगा.

डॉमनिक़ कॉटरेज़ के पति ने कहा कि उनकी पत्नी के वज़न के कारण उन्हें इस बात का पता नहीं चल पाया कि वह गर्भवती हैं.

इस दंपत्ति के कुछ बड़े बच्चे और पोते हैं. डॉमनिक़ कॉटरेज़ एक सामाजिक कार्यकर्ता और उनके पति एक स्थानीय परिषद के सदस्य हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार