अनियमितता पर सख़्त कार्रवाई: मनमोहन

मनमोहन सिंह
Image caption प्रधानमंत्री ने कहा है कि किसी भी प्रकार की अनियमितता पर सख़्त कार्रवाई की जाएगी.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्ट्रमंडल खेलों के बारे में आ रही अनियमितता की शिकायतों पर संबंधित मंत्रालयों से पूरी जांच करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा है कि जो भी व्यक्ति अनियमितता के लिए दोषी पाया जाए उसके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जानी चाहिए.

प्रधानमंत्री ने ये बातें शनिवार को कॉमनवेल्थ खेलों की तैयारियों की समीक्षा के लिए बुलाई एक उच्चस्तरीय बैठक में की.

इस बैठक में राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाडी, दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, दिल्ली के उप-राज्यपाल तेजेंद्र खन्ना, केंद्रीय खेल मंत्री एमएस गिल, शहरी विकास मंत्री जयपाल रेड्डी, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव टीकेए नायर, और कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर ने हिस्सा लिया.

'भरोसा जीतना ज़रुरी'

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ने कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर को राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन के लिए गठित मंत्री समूह के साथ लगातार संपर्क में रहने के लिए कहा है.

प्रधानमंत्री ने खेलों की आयोजन समिति को कहा कि सभी ज़रुरी क़दम उठाते हुए खेलों से संबंधित बाक़ी बचे काम को तुरंत निपटाया जाए.

प्रधानमंत्री ने कहा कि खेलों से जुड़े कुछ निर्माण कार्यों में देरी हुई और कुछ में कमियां भी पाईं गईं हैं.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रमंडल खेलों से पहले निर्माण कार्य की प्रभावी निगरानी करते हुए जनता का भरोसा जीतना बहुत ज़रुरी है

विज्ञप्ति में कहा गया है, “लोगों को खेलों की तैयारियों और बाक़ी बचे काम के बारे में जानने का पूरा हक़ है और मंत्री समूह ये सुनिश्चित करेगा कि ये जानकारी सही समय पर सार्वजनिक की जाए.”

अगस्त के आख़िरी सप्ताह में प्रधानमंत्री ख़ुद कॉमनवेल्थ खेलों के कुछ स्टेडियमों का दौरा भी करेंगे.

बैठक के अंत में प्रधानमंत्री ने भरोसा जताया कि मंत्री समूह की निगरानी में चल रही खेलों की तैयारियों के चलते खेल उपयुक्त ढंग से आयोजित किए जा सकेंगे.

संबंधित समाचार