बिहार में लाखों कर्मचारी हड़ताल पर

Image caption बिहार में आज ढाई लाख कर्मचारी हड़ताल पर हैं.

बिहार में छठे वेतन आयोग की सिफ़ारिशों को पूर्ण रुप से लागू करने की मांगों को लेकर क़रीब ढाई लाख कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं.

सरकारी कर्मचारियों की मांग है कि केंद्र सरकार ने छठे वेतन आयोग की जो सिफ़ारिशें की थीं उन्हें राज्य सरकार भी पूर्ण रुप से लागू करे.

हड़ताल के तहत राज्य के विभिन्न विभागों के ढाई लाख से अधिक कर्मचारी कार्यालय नहीं जा रहे हैं.

बिहार में छठे वेतन आयोग की सिफ़ारिशें लागू तो की गई हैं लेकिन कर्मचारियों का आरोप है कि ये सिफ़ारिशें पूरी तरह से लागू नहीं की गई हैं.

इस हड़ताल में पटना सचिवालय के कर्मचारी शामिल नहीं हैं.

इन कर्मचारियों का कहना है कि वो सरकार को पंद्रह दिन का समय दे रही है और अगर सरकार ने मांगें नहीं मानी तो वो भी हड़ताल पर चले जाएंगे.

हड़ताल पर गए कर्मचारियों ने एक समन्वय समिति बनाई है जिसका नाम बिहार राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ है और यही समिति सरकार से बातचीत करेगी.

उल्लेखनीय है कि ये कर्मचारी पिछले साल भी 34 दिन की हड़ताल पर गए थे और तब राज्य सरकार ने मांगे पूरी करने का आश्वासन दिया था.

कर्मचारियों का आरोप है कि सरकार ने ये मांगे नहीं मानी और उनकी मांग है ये सरकार अपने आश्वानसों को पूरा करे.

राज्य के कर्मचारियों ने ये हड़ताल ऐसे समय में की है जब चुनाव सर पर हैं. संभवत कर्मचारी मान रहे हैं कि ऐसे समय में हड़ताल से सरकार पर उनकी मांगें मानने के लिए दबाव बन सकेगा.

संबंधित समाचार