युवाओं को कट्टरपंथ में धकलने में कमी नहीं: चिदंबरम

  • 25 अगस्त 2010
Image caption चिदंबरम का कहना था कि पूर्वत्तर राज्यों में नीटकीय ढंग से हिंसा में कमी आई है

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि भारत में युवाओं को कट्टरपंथ में धकेलने के प्रयासों में कमी नहीं आई है और हाल में 'सेफ़्रन टेररिज़म' यानी 'केसरी आतंक' का बम धमाकों से संबंध का पता चला है.

देश के विभिन्न राज्यों के पुलिस महानिदेशकों के एक सम्मेलन को दिल्ली में संबोधित करते हुए गृह मंत्री ने ये विचार व्यक्त किए.

उन्होंने कश्मीर में स्थिति, माओवादी हिंसा, जातीय हिंसा और पूर्वोत्तर राज्यों की स्थिति के बारे में भी चर्चा की है.

कश्मीर में नई शुरुआत की उम्मीद

चिदंबरम का कहना था, "भारत में युवा पुरुषों और महिलाओं को कट्टरपंथ में धकलने के प्रयासों में कोई कमी नहीं आई है...इसके अलावा हाल में सेफ़्रन टेररिज़म (केसरी आतंकवाद) के किस्से देखने को मिले हैं जिन्हें पहले हुए कई बम धमाकों के लिए दोषी पाया गया है."

भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर के बारे में उनका कहना था, "जम्मू-कश्मीर पथराव, लाठी चार्ज, आँसू गैस और फ़ायरिंग के चक्रव्यूह में फँस गया है. हमें चिंता है कि हम हिंसा के इस घटनाक्रम को रोक नहीं पाए हैं."

उन्होंने साथ ही ये भी कहा, "मुझे उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में हम ऐसी कोई शुरुआती कर पाएँगे जिससे हम प्रदर्शनकारियों तक पहुँच पाएँगे, उन्हें भरोसा दिला पाएँगे, शांति कायम कर पाएँगे और चर्चा की वो प्रक्रिया शुरु कर पाएँगे जिससे समाधान निकलेगा."

चिदंबरम ने दावा किया कि कई माओवाद प्रभावित इलाक़ों में सुरक्षा बल दोबारा अपना नियंत्रण कायम कर पाए हैं.

उनका कहना था कि सीपीआई (माओवादी) संगठन से हिंसा त्याग देने की अपील की गई है लेकिन उसकी तरफ़ से अब तक कोई विश्वास योग्य या फिर सीधा उत्तर नहीं आया है.

उनका कहना था कि अनुसूचित जातियों के सदस्य कई बार हमलों के शिकार बनते हैं लेकिन पिछले एक साल में जातीय हिंसा की कोई बड़ी घटना नहीं हुई है.

उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को हिदायत दी कि जातीय हिंसा के किसी भी मामले में वरिष्ठ अधिकारियों को स्थिति का समाधान करने के लिए नियुक्त किया जाना चाहिए जो बिना डर और भेदभाव के काम करें.

चिदंबरम ने कहा कि पूर्वोत्तर के राज्यों में हिंसक घटनाओं में नाटकीय कमी आई है चाहे मणिपुर और असम में बंद और छिटपुट हिंसा देखने को मिली है.

संबंधित समाचार