बिहार में हुआ बीडीओ का अपहरण

माओवादी लड़ाके
Image caption बिहार में पहले भी माओवादियों ने सरकारी अफ़सरों का अपहरण किया है

बिहार में रविवार दोपहर शिवहर ज़िले के तरियानी अंचल में प्रखंड विकास अधिकारी यानी बीडीओ मनोज कुमार सिंह का माओवादियों ने अपहरण कर लिया.

बीडीओ एक सरकारी काम से गांव गए थे जहां उन्हें मोटरसाइकिल पर सवार माओवादी उठा कर ले गए.

बिहार के पुलिस प्रवक्ता पीके ठाकुर ने बीबीसी को बताया, "इस इलाक़े में पुलिस खोज अभियान में जुट गई है लेकिन देर शाम तक बीडीओ का पता नहीं चल सका है."

उधर राज्य के लखीसराय ज़िले के कजरा थाना इलाक़े में रविवार सुबह से नक्सलियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ चल रही है.

पुलिस का कहना है कि एक ऊंची पहाड़ी पर बड़ी तादाद में जमा नक्सली फ़ायरिंग कर रहे हैं और दूसरी पहाड़ी पर से भी फ़ायरिंग कर रहे हैं.

बीच के मैदानी इलाक़े में कई पुलिसकर्मियों के फंसे होने की ख़बर है.

ग़ैर सरकारी सूत्रों ने आशंका व्यक्त की है कि इस मुठभेड़ में कई पुलिसकर्मी हताहत हुए हैं.

पुलिस प्रवक्ता पीके ठाकुर का कहना है कि कुछ पुलिसकर्मी घायल ज़रूर हैं लेकिन किसी के मरने की ख़बर नहीं है.

रविवार सुबह से हो रही मुठभेड़ में दोनों तरफ से सैकड़ों राउंड फ़ायरिंग हुई है.

आस-पास से पुलिस बल बुला लिए गए हैं और हालात गंभीर बताए जा रहे हैं.

एक नक्सली नेता मुसाफ़िर साहनी की हाल में हुई गिरफ़्तारी के ख़िलाफ़ नक्सलियों ने शनिवार को उत्तर बिहार बंद का आह्वान किया था.

इसी सिलसिले में शनिवार रात छपरा ज़िले में नक्सलियों ने सड़क निर्माण कार्य में लगे एक निजी कंपनी की पांच मशीनों में आग लगा दी.

इससे पहले दो स्थानों पर माओवादियों ने दो मोबाइल फ़ोन टावर ध्वस्त कर दिए थे.

संबंधित समाचार