नक्सली मुठभेड़ में पाँच जवान मारे गए

  • 29 अगस्त 2010
फ़ाइल फ़ोटो

छत्तीसगढ़ के कांकेर ज़िले में नक्सलवादी छापामारों और अर्द्ध सैनिक बलों के जवानों के बीच हुई मुठभेड़ में पाँच जवान मारे गए हैं और तीन अन्य घायल हैं.

घटना जिले के पखान्जोर इलाक़े की है जहाँ जंगलों में मोर्चा संभाले 250 से ज़्यादा नक्सलियों ने गश्त कर रहे सीमा सुरक्षा बल के जवानों को घेर कर उनपर अंधाधुंध गोलियों चलानी शुरू कर दीं.

कांकेर के पुलिस अधीक्षक अजय यादव के अनुसार मुठभेड़ लगभग पांच घंटों तक चली और अर्द्ध सैनिक बलों के जवानों नें नक्सलियों का डट कर मुक़ाबला किया.

पुलिस का कहना है कि पखान्जोर में रविवार को राज्य के वन मंत्री विक्रम उसेंडी का दौरा प्रस्तावित था. इसी बीच पता चला कि माओवादियों ने सड़क पर पेड़ काट कर अवरोध पैदा कर दिए हैं.

घात लगाकर हमला

मंत्री के दौरे के लिए सड़क को सुरक्षित करने के उद्देश्य से ही रविवार सुबह सीमा सुरक्षा बल, ज़िला पुलिस और विशेष पुलिस अधिकारियों का एक दल पखान्जोर पहुंचा जहाँ पहले से घात लगाए माओवादियों ने उन पर हमला कर दिया.

छत्तीसगढ़ के गृह मंत्री ननकीराम कँवर ने आशंका जाताई है कि माओवादियों ने वन मंत्री पर हमले की योजना बनाई थी. मुठभेड़ की ख़बर के बाद वन मंत्री विक्रम उसेंडी ने अपना पखान्जोर का दौरा रद्द कर दिया है.

कँवर का दावा है कि मुठभेड़ में कम से कम पांच माओवादी भी मारे गए हैं. हांलाकि घटना स्थल के पास किसी माओवादी की लाश बरामद नहीं हुई है मगर पुलिस का कहना है कि जंगल में खून के निशान मिले हैं जिससे पता चलता है कि माओवादियों को भी क्षति झेलनी पड़ी है.

बीजापुर में भी मुठभेड़

सीमा सुरक्षा बल के साथ पुलिस के दस्ते में कुछ विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) और पुलिस बल के जवान के भी शामिल होने की बात कही जा रही है.

संबंधित समाचार