जाटों का विरोध प्रदर्शन जारी, दो मरे

हरियाणा
Image caption सोमवार को पुलिस फ़ायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी

हरियाणा के हिसार ज़िले में आरक्षण की मांग को लेकर जाट समुदाय के प्रदर्शनों के बाद शहर में अनिश्चितकालीन कर्फ़्यू लगा दिया गया है. आंदोलन के दौरान दो लोगों की मौत भी हुई है.

स्थिति पर नियंत्रण करने में मदद के लिए सेना को बुलाया गया है.

जाट समुदाय के लोग सोमवार से ही सरकारी नौकरियों में आरक्षण को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. हज़ारों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार को चंडीगढ़-हिसार हाईवे पर जाम लगा दिया है. रोडवेज़ की बसों ने एहतियात के तौर पर बसों को चलाना बंद कर दिया है.

स्थनीय पत्रकार संदीप मलिक के मुताबिक हिसार से 25 किलोमीटर दूर उकलाना में आंदोलनकारियों ने एक मालगाड़ी रोकने की कोशिश की जिसमें दो लोगों की मौत हो गई है.

प्रदर्शनकारियों ने उकलाना रेलवे स्टेशन पर आग लगा दी है.

आंदोलनकारियों ने हिसार शहर के नजदीक मैयर गाँव में सरकारी बैंक की एक शाखा में आग लगा दिया और सरकारी संपत्ति को क्षति पहुँचाई है.

उल्लेखनीय है कि सोमवार को आंदोलनकारियों ने बसों और अन्य वाहनों में आग लगा दी थी. राजमार्ग को लोगों से मुक्त करवाने की कोशिश कर रहे पुलिस ने गोलियाँ चलाई थी जिसमें एक व्यक्ति मारे गए और कई घायल हो गए थे.

हरियाणा सरकार ने इस मामले की जाँच के आदेश दिए हैं.

संबंधित समाचार