देहरादून में इज़्ज़त के नाम पर हत्या

  • 20 अक्तूबर 2010
Image caption पुलिस का कहना है कि मनीष थापा की इज़्जत के नाम पर हत्या कर दी गई

देहरादून में ऑनर किलिंग यानि इज़्ज़त के नाम पर एक सनसनीखेज घटना में एक युवती के प्रेमी की उसके सामने ही हत्या कर दी गई.

पुलिस के मुताबिक ये हत्या युवती के पिता और भाई ने ही की.

लड़की के बयानों के आधार पर पुलिस ने युवती के पिता और उसके भाई को गिरफ़्तार कर लिया है |

देहरादून के मिस्सरवाला इलाके में 22 साल के युवक मनीष थापा की लाश रेल की पटरियों पर पाई गई. लेकिन ये कोई आत्महत्या नहीं था बल्कि पुलिस के अनुसार ऑनर किलिंग का मामला था.

डोईवाला के थानाध्यक्ष एएस रावत ने बताया कि, "मनीष थापा और मनीषा रावत के प्रेम संबंध थे. मनीष अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया हुआ था. दोनों घर की छत पर थे. उसके पिता और भाई ने जब उन्हें देखा तो गुस्से में आकर लड़के को पीट-पीटकर मार डाला. उसके बाद गुनाह छुपाने के लिए शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया."

लड़की ने किसी तरह से भागकर जान बचाई और थाने में आकर इसकी सूचना दी. सूचना पर वरिष्ठ अधिकारी भी मौक़े पर पहुंचे.

देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जीए मार्तोलिया ने कहा, "प्रारंभिक जांच से लगता है ये हत्या आवेश में आकर की गई है."

लड़की के परिजनों की सफ़ाई

उधर लड़की के गिरफ़्तार परिजन अपने आपको बेगुनाह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं.

मनीषा के पिता पृथ्वी सिंह ने कहा कि मनीष मेरी बेटी के साथ दुष्कर्म कर रहा था और आप ही बताओ जब कोई इस हालत में देखेगा तो क्या होगा. लेकिन मैंने सिर्फ़ मारा उसकी हत्या नहीं की.

उधर इस घटना के बाद लड़की गहरे सदमे में है और बात करने की स्थिति में नहीं है.

देहरादून की छवि आमतौर पर प्रगतिशील शहर की है लेकिन इस घटना से लोग सकते में हैं.

मिस्सरवाला के प्रधान राजेश गुरुंग का कहना था कि ये हत्या हमारे लिए शर्म की बात है लेकिन लड़की की बहादुरी को देखते हुए हम उसका पूरा साथ देंगे.

संबंधित समाचार