यूएन के विवादास्पद मुद्दों की सूची में 'कश्मीर' का नाम नहीं

  • 15 नवंबर 2010
यूएन लोगो
Image caption कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच पिछले 60 सालों से विवाद का कारण बना हुआ है.

एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में संयुक्त राष्ट्र ने अनसुलझे विवादों की अपनी सूची से जम्मू और कश्मीर का नाम हटा दिया है.

संयुक्त राष्ट्र के इस क़दम से पाकिस्तान को ज़बरदस्त झटका लगा है, क्योंकि पाकिस्तान लंबे समय से संयुक्त राष्ट्र से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग करता रहा है.

भारतीय समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार सुरक्षा परिषद की निगरानी वाली विवादित मसलों की संयुक्त राष्ट्र की सूची से जम्मू-कश्मीर का नाम हटाए जाने की जानकारी सबसे पहले पाकिस्तान को हुई जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के दूत ने इस मामले में संयुक्त राष्ट्र से अपना विरोध दर्ज कराया.

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के कार्यवाहक राजदूत अमजद हुसैन बी सियाल ने कहा कि जम्मू और कश्मीर विवाद का उल्लेख संयुक्त राष्ट्र की लंबे अरसे से अनसुलझे मुद्दों की सूची में नहीं किया गया है.

अमजद ने कहा कि लगता है कि ग़लती से इस मसले को फ़ेहरिस्त से बाहर कर दिया गया है, क्योंकि सुरक्षा परिषद के एजेंडा में जम्मू और कश्मीर सबसे पुराने विवादित मुद्दों में से एक है.

उन्होंने यह बयान संयुक्त राष्ट्र के आमसभा सत्र में दिया जब आमसभा में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के काम काज और सुधार पर बहस चल रही थी.

गौरतलब है कि इस मुद्दे को सुलझाने के लिए पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र से हस्तक्षेप करने की बात कहता है लेकिन भारत का हमेशा से मानना रहा है कि यह मसला केवल दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बातचीत से ही हल हो सकता है.

संबंधित समाचार