सिब्बल ने प्रधानमंत्री का किया बचाव

सिब्बल
Image caption 2जी स्पेक्ट्रम मामले में प्रधानमंत्री के बचाव का ज़िम्मा अब नव नियुक्त दूर संचार मंत्री कपिल सिब्बल ने लिया है.

पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा पर कार्रवाई के मामले में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की चुप्पी पर सुप्रीम कोर्ट के गंभीर सवालों के बाद नए संचार मंत्री कपिल सिब्बल ने प्रधानमंत्री का बचाव किया है.

याचिकाकर्ता सुब्रमण्यम स्वामी ने अदालत में कहा था कि पूर्व संचार मंत्री ए राजा की 2जी लाइसेंस आवंटन में भूमिका की जांच करने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को जो पांच पत्र लिखे थे, उनका उन्हें कोई अर्थपूर्ण जवाब नहीं मिला है.

शनिवार को सुप्रीम कोर्ट में प्रधानमंत्री को ओर एक हलफ़नामा दायर किया जाएगा जिसमें याचिकाकर्ता सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा प्रधानमंत्री को लिखे गए पत्रों के जवाब के बारे में जानकारी होगी.

'न्याय की नहीं, राजनीतिक ज़मीन की तलाश'

नए दूरसंचार मंत्री कपिल सिब्बल ने भारतीय मीडिया में 2जी स्पेक्ट्रम मामले में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ईमानदार छवि का जमकर बचाव किया है.

सिब्बल ने इस पूरे मामले में मनमोहन सिंह का बचाव करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री ने कुछ भी ग़लत नहीं किया है और वो ईमानदारी के प्रतिमूर्त्ति हैं.

सिब्बल ने कहा, " मुझे नहीं लगता कि देश में कोई भी इस बात पर यक़ीन करेगा कि प्रधानमंत्री नियमों का लाभ उठाने का प्रयास कर रहे थे."

सिब्बल ने पत्रकारों से विनती की कि वो प्रधानमंत्री को सीधे कटघरे में खड़ा करने के पहले ये समझने की कोशिश करें कि जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रमण्यम स्वामी ने जो सवाल उठाए हैं, वो न्याय पाने की इच्छा से प्रेरित नहीं हैं.

सिब्बल का कहना था कि स्वामी ऐसा राजनीतिक फ़ायदा उठाने के लिए कर रहे हैं.

सिब्बल ने कहा कि डॉक्टर स्वामी राजनीतिक ज़मीन तलाश रहे हैं, न्याय नहीं.

बचाव

सिब्बल ने शुक्रवार को दिनभर भारतीय टीवी चैनलों पर प्रधानमंत्री के पक्ष का बचाव करते हुए कहा कि जाँच और अभियोग लगाने की एक तय प्रक्रिया है और अगर सुब्रमण्यम स्वामी गंभीर थे तो उन्हें इस प्रक्रिया का पालन करना चाहिए था.

सिब्बल का कहना था कि एक निजी शिकायत पर कार्रवाई करने का आदेश देना क़ानूनी तौर पर संभव नहीं था लेकिन प्रधानमंत्री एक संवेदनशील व्यक्ति हैं, इसलिए उन्होंने स्वामी की चिट्ठियों का जवाब दिया.

2जी स्पेक्ट्रम मामले पर सीधे तौर पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर उंगली उठने के बाद से कांग्रेस पार्टी के कई दिग्गज नेता खुलकर उनके बचाव में सामने आए हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता जनार्दन द्विवेदी ने कहा है कि प्रधानमंत्री पर हमला करनेवाले लोग दरअसल कांग्रेस की शक्ति और प्रधानमंत्री के रुतबे से डरे हुए हैं.

राहुल गाँधी ने कहा है कि इस मामले की वजह से मनमोहन सिंह की किरकिरी नहीं हुई है.

2जी सपेक्ट्रम मामला सरकार के गले की फांस बन गया है और ऐसा माना जा रहा है कि अब कांग्रेस पार्टी के मैनेजर एक मुहिम के तहत प्रधानमंत्री का बचाव करने मंच पर उतरे हैं.

संबंधित समाचार