'राहुल को प्रधानमंत्री देखना मेरा लक्ष्य है'

  • 25 नवंबर 2010
किरण रेड्डी
Image caption किरण रेड्डी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद पहला संवाददाता सम्मेलन संबोधित किया.

आंध्र प्रदेश के नए मुख्य मंत्री नाल्लारी किरण कुमार रेड्डी ने कहा है कि 2014 में राहुल गाँधी को भारत का प्रधान मंत्री देखना उनके लक्ष्यों में से एक है.

शपत ग्रहण करने के बाद अपनी पहली प्रेस कॉफ़्रेंस में उन्होंने कहा कि वे दिवंगत नेता वाईएस राजशेखर रेड्डी की आख़िरी राजनीतिक इच्छा थी कि 2014 में कांग्रेस पार्टी आंध्र प्रदेश में 41 लोक सभा सीटें जीते और राहुल गाँधी प्रधान मंत्री बनें.

उन्होंने कहा कि वो वाईएसआर की इस इच्छा को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे.

अपनी प्राथमिकताओं के बारे में उन्होंने कहा कि वो एक साफ़ सुथरा, पारदर्शी और काम करने वाला प्रशासन देंगे ताकि तमाम कल्याणकारी योजनाओं का लाभ ग़रीबी रेखा से नीचे जीवन बिताने वाले हर व्यक्ति को मिल सके.

उन्होंने कहा कि वो विशेषकर शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़ी योजनाओं पर ध्यान देंगे.

कल्याणकारी योजनाएँ

इस विषय में अपनी गंभीरता के प्रदर्शन के लिए किरण कुमार रेड्डी ने अपने पहले सरकारी कार्यक्रम में निज़ाम्स इंस्टिट्यूट में उस वार्ड का दौरा किया जहाँ पर इस योजना के अंतर्गत गरीब रोगियों का मुफ़्त इलाज किया जाता है.

रेड्डी ने कहा कि उनकी सरकर वो सभी कल्याणकारी योजनाएँ जारी रखेगी जो वाईएस राजशेखर रेड्डी ने शुरू की थीं और जिन्हें कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में शामिल किया था.

उन्होंने कहा कि वो हर योजना और कार्यक्रम के लिए एक स्पष्ट लक्ष्य निर्धारित करेंगे और उस को पूरा करने के लिए अच्छे मंत्रियों और अधिकारियों का चयन किया जाएगा.

किरण कुमार रेड्डी ने कहा कि वो हैदराबाद और आंध्र प्रदेश को पूँजी निवेश के लिए एक आकर्षक और अनुकूल स्थान बनाने और शांति और क़ानून व्यवस्था पर पूरा ध्यान देंगे.

अलग तेलंगाना राज्य की मांग के विषय पर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पहले ही इस विषय पर जस्टिस श्रीकृष्ण समिति बैठा चुकी है और इस की रिपोर्ट आने के बाद पार्टी आलाकमान जो भी फ़ैसला करेगा वो उसके अनुसार काम करेंगे.

इन आशंकाओं पर कि तेलंगाना के विषय पर दिसंबर के बाद राज्य में गड़बड़ी हो सकती है उन्होंने कहा कि सरकार सब को सुरक्षा प्रदान करेगी और किसी को क़ानून हाथ में लेने की अनुमति नहीं देगी.

संबंधित समाचार