के करुणाकरण का निधन

के करुणाकरण

वरिष्ठ कॉंग्रेसी नेता और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री के करुणाकरण का निधन हो गया है. वे 93 वर्ष के थे.

कुछ दिन पहले उन्हें मूत्राशय में संक्रमण और बुख़ार होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

करुणाकरण केंद्र में उद्योग मंत्री भी रहे. उन्होंने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लिया था और वह ट्रेड यूनियन में भी सक्रिय थे.

वह भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के क़रीबी व्यक्तियों में थे.

वह चार बार केरल के मुख्यमंत्री रहे. वह दो बार लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए और तीन बार राज्यसभा के सदस्य रहे.

एक मई, 2005 को उन्होंने नेशनल कॉंग्रेस (इंदिरा) के नाम से एक नई पार्टी का गठन किया जिसे कुछ समय बाद डेमोक्रैटिक इंदिरा कॉंग्रेस (करुणाकरण) का नाम दे दिया गया. पार्टी का बाद में नेशनलिस्ट कॉंग्रेस पार्टी में विलय हो गया.

के करुणाकरण का नाम कॉंग्रेस के दिग्गज नेताओं में लिया जाता रहा है.

संबंधित समाचार