चरमपंथी हमलों को लेकर सतर्कता बढ़ी

Image caption माना जा रहा है कि सुरक्षा अलर्ट की यह कार्रवाई खुफ़िया एजेंसियों से मिली जानकारी के आधार पर की गई है.

नए साल के मौके पर भारत के अलग-अलग शहरों में चरमपंथी हमलों की खबर के मद्देनज़र केंद्रीय गृहमंत्रालय ने देशभर में सुरक्षा अलर्ट जारी किया है.

मुंबई सहित बंगलौर, अहमदाबाद और गोवा जैसे राज्यों में पुलिस की तैनाती और सुरक्षा इंतज़ाम कड़े कर दिए गए हैं.

2008 में मुंबई में हुए हमलों के बाद भारत सरकार किसी भी खुफ़िया जानकारी को गंभीरता से लेती रही है.

गृहमंत्रालय के अनुसार उसे जानकारी मिली है कि चरमपंथी नए साल के मौके पर अलग-अलग जगहों पर हमले करने की साज़िश रच रहे हैं.

ख़तरा

दिल्ली स्थित बीबीसी संवाददाता के मुताबिक देशभर में इस तरह के सुरक्षा अलर्ट अब आम होते जा रहे हैं. यही वजह है कि यह जानना मुश्किल है कि हमलों के बारे में मिली जानकारी कितनी पुख़्ता है.

2008 में मुंबई में अलग-अलग जगह हुए हमलों में दस बंदूकधारियों ने 166 से ज़्यादा लोगों को मौत के घाट उतार दिया था.

भारत में अब भी इस तरह के किसी हमले के दोहराए जाने का ख़तरा बरक़रार है.

जानकारी

नए साल के जश्न के मौके पर ऐसे किसी हमले को रोकने के लिए ही यह अलर्ट जारी किया गया. ज़्यादातर शहरों में भीड़-भाड़ वाले इलाकों में अधिक संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है.

पिछले हफ़्ते मुंबई पुलिस ने उन चार संदिग्धत हमलावरों के स्कैच जारी किए थे जिन पर क्रिसमस के मौके पर हमले करने का संदेह था.

माना जा रहा है कि सुरक्षा अलर्ट की यह कार्रवाई खुफ़िया एजेंसियों से मिली जानकारी के आधार पर की गई है.

संबंधित समाचार