काले धन पर कैबिनेट में चर्चा

मनमोहन सिंह
Image caption केंद्रीय कैबिनेट में काले धन का मुद्दा उठा.

विदेशों में जमा भारतीयों के काले धन पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट की सख़्त टिप्पणी के बाद गुरुवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में ये मुद्दा कई मंत्रियों ने उठाया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि केंद्रीय मंत्रियों ने सरकार को इस मुद्दे पर हर तरफ़ से हो रही आलोचना पर चिंता जताई है.

लेकिन इसी बैठक में प्रधानमंत्री ने साफ़ कर दिया है कि सरकार विदेशी खातों की जानकारी को सार्वजनिक नहीं कर सकती क्योंकि सरकार कई अंतरराष्ट्रीय समझौतों से बंधी हुई है.

पीटीआई के अनुसार बैठक में प्रणब मुखर्जी ने कहा कि सरकार को विदेशी बैंकों में जमा काले धन की जानकारी अंतरराष्ट्रीय समझौतों के अंतर्गत मिली है, और अगर सरकार इस जानकारी को सार्वजनिक करती है तो भविष्य में कोई भी विदेशी सरकार भारत को ऐसी जानकारी नहीं देगी.

कैबिनेट की बैठक में कुछ मंत्रियों का कहना था कि लोगों में ये संदेश जा रहा है कि सरकार काले धन के मुद्दे पर कुछ छिपा रही है. बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने राम जेठमालानी की विदेशों में जमा काले धन पर दायर एक याचिका की सुनवाई दौरान सख़्त टिप्पणियां की थीं.

अदालत ने कहा था कि विदेशों में जमा भारतीयों का कालाधन राष्ट्र की लूट है.

अदालत ने काले धन के बारे में पूरी जानकारी मुहैया करवाने में केंद्र सरकार की आनाकानी पर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की थी.