वरिष्ठ अधिकारी को ज़िंदा जलाया

Image caption ख़बरों के अनुसार वरिष्ठ अधिकारी को ज़िदा जला दिया गया है

महाराष्ट्र के नासिक ज़िले में एक वरिष्ठ अधिकारी को ज़िदा जला दिया गया है.

नासिक के प्रशासनिक, डिप्टी कलेक्टर उन्मेश महाजन के मुताबिक मालेगाँव के ऐडिशनल कलेक्टर यशवंत सोनावने मालेगाँव से ननगाँव जा रहे थे तभी उन्होंने रास्ते में एक तेल टैंकर में कुछ कथित अनियमितताएँ होते हुए देखीं.

ये जगह मुंबई से करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर है.

महाजन कहते हैं, ''उनके ड्राइवर ने अपनी गाड़ी रोकी और टैंकर का निरीक्षण करने के लिए उसके पास पहुँचे लेकिन इस पर टैंकर के आसपास खड़े लोग बेहद नाराज़ हो गए. उन्होंने पहले गाड़ी को आग लगा दी और फिर यशवंत सोनावने को ज़िंदा जला दिया.'' महाजन कहते हैं कि उस वक्त सोनावने के साथ मात्र उनके ड्राइवर और पीए राजीव काड़े थे. ये वाकया दोपहर 12.30 और एक के बीच में हुआ.

महाजन के मुताबिक लोगों ने राजीव को भी खदेड़ा लेकिन वो भाग निकले. राजीव इस पूरे वाकये से बहुत घबराए हुए हैं.

तेल माफ़िया

रिपोर्टों के मुताबिक इस घटना के पीछे तेल माफ़िया का हाथ हो सकता है, हालांकि महाजन कहते हैं कि ऐसा कहना अभी जल्द होगा.

महाराष्ट्र पुलिस के डीजी केपी रघुवंशी ने बीबीसी को बताया कि इस घटना में एक व्यक्ति 85 प्रतिशत तक जल गया है और उनकी हालत गंभीर है.

नासिक के डिस्ट्रक्ट मजिस्ट्रेट पी वेलारासु का कहना था कि वो आश्चर्यचकित हैं कि एक छोटी सी घटना इतनी बड़ी कैसे हो गई.

उन्होंने कहा कि ये घटना मनमाड के पास हुई जहाँ तेल के भंडारण करने की ढेर सारी जगह हैं और तेल और केरोसीन के टैंकरों का आना जाना लगा रहा है.

उनके मुताबिक यहाँ तेल चोरी की घटनाएँ होती रही हैं और पुलिस इस बारे में 30-40 केस भी फ़ाइल कर चुकी है.

उन्होंने किसी तेल माफ़िया के होने से इनकार किया और कहा कि ये काम कुछ अपराधियों का हो सकता है.

वेलारासु के मुताबिक इस घटना में यशवंत सोनावने के ड्राइवर और पीए सुरक्षित हैं लेकिन जलने से एक और व्यक्ति की हालत नाज़ुक है.

उनके मुताबिक ये व्यक्ति हमलावर भी हो सकता है और पुलिस मामले की पूरी जाँच कर रही है.

संबंधित समाचार