स्वामी ने करुणानिधि पर निशाना साधा

करुणानिधि
Image caption स्वामी ने करुणानिधि पर मुक़दमा चलाने की अनुमति मांगी है.

जनता पार्टी के प्रमुख सुब्रामण्यम स्वामी ने सोमवार को तमिलनाडु के राज्यपाल से राज्य के मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के ख़िलाफ़ भूमि आवंटन में नियमों की तथाकथित अवहेलना के लिए मुक़दमा चलाने की इजाज़त मांगी है.

सुब्रामण्यम स्वामी के अनुसार मुख्यमंत्री ने विवेकाधीन कोटे से ज़मीन आवंटन में कुछ लोगों तरजीह दी है.

राज्यपाल सुरजीत सिंह बरनाला को अपनी अर्जी देने के बाद स्वामी ने चेन्नई में पत्रकारों के बताया, "करुणानिधि ने हर नियम की अवहेलना करते हुए कुछ लोगों को ज़मीन का आवंटन किया है."

स्वामी ने कहा कि उनके पास इस मामले से संबंधित पर्याप्त सबूत हैं. उन्होंने कहा, "मैं कुछ भी बिना सबूत के नहीं कहता. मैंने हमेशा यही किया है और ऐसे ही अपने मुक़दमे जीते हैं."

सुब्रामण्यम स्वामी ने आरोप लगाया कि तमिलनाडु हाउसिंग बोर्ड ने 15 प्रतिशत भूमि मुख्यमंत्री के विवेकाधीन कोटे के लिए रखी है.

स्वामी के अनुसार करुणानिधि ने विवेकाधीन कोटे से कुछ पसंदीदा लोगों को ज़मीन देकर भ्रष्टाचार निरोधक क़ानून की धारा 11 और 13 का उल्लंघन किया है और इसलिए मुख्यमंत्री को इस्तीफ़ा दे देना चाहिए और उनपर मुक़दमा चलना चाहिए.

स्वामी ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल को दी अर्ज़ी में उन लोगों के नाम लिखे हैं जो मुख्यमंत्री की विवेकाधीन कोटे से लाभान्वित हुए हैं.

उन्होंने कहा, "मैंने उन लोगों के नाम दिए हैं जो इस ज़मीन के हक़दार नहीं थे. उनमें नौकरशाह, जज, पुलिस अधिकारी समेत कई क़िस्म के लोग हैं."

संबंधित समाचार