यासीन मलिक पर जूते फेंके, पुतला जलाया

  • 11 फरवरी 2011
यासीन मलिक इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption यासीन मलिक को होटल में कुछ लोगों ने जूता दिखाया. चित्रः दीपक शर्मा

ज़ियारत के लिए अपनी पत्नी के साथ अजमेर आए जम्मू कश्मीर के एक अलगाववादी नेता, जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ़्रंट के अध्यक्ष यासीन मलिक को भारी विरोध प्रदर्शनों का सामना करना पड़ा.

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनका पुतला जलाया और काले झंडे लहराए. प्रदर्शनकारियो में से एक ने हवा में चप्पल भी फेंकी.

यासीन मलिक इस विरोध के बावजूद शुक्रवार को ख़्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर गए और ज़ियारत की.

अजमेर आने पर एतराज़

यासीन मलिक के अजमेर के एक होटल में ठहरने की ख़बर पाते ही भाजपा कार्यकर्ता वहाँ पहुंच गए और जमकर नारे बाज़ी की.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption यासीन मलिक का भारी विरोध हुआ.

वे उनकी अजमेर में मौजूदगी पर आपत्ति व्यक्त कर रहे थे.

अजमेर के पुलिस अधीक्षक विपिन पांडे ने बीबीसी से कहा कुछ लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया और प्रशसन को ज्ञापन देकर यासीन मलिक को अजमेर से जाने को कहने के लिए कहा.

उनका कहना था, "इसके अलावा कोई घटना नही हुई, सब कुछ शंतिपूर्ण है और सुरक्षा की पूरी व्यवस्था है".

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार