'दार्जिलिंग में जारी रहेगा आंदोलन'

  • 13 फरवरी 2011
दार्जिलिंग इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अलग राज्य की मांग पर दार्जिलिंग और पास के इलाकों में लंबे समय से आंदोलन जारी है

दार्जिलिंग में जारी हंगामों के बीच केंद्र सरकार के मध्यस्थ विजय मदान ने आंदोलन का नेतृत्व कर रहे दल गोरखा मुक्ति मोर्चो के नेता बिमल गुरूंग से भेंट की है.

ये मुलाक़ात पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी ज़िले में कुमानी नामक जगह पर हुई.

इस बैठक में अलग राज्य की मांग को लेकर जारी आंदोलन पर चर्ची की गई.

स्थानीय पत्रकार अमिताभ बनर्जी ने बीबीसी को बताया कि गोरखा नेताओं ने विजय मदान से कहा है कि संगठन मैदानी क्षेत्रों में आंदोलन को धीमा करेगा, लेकिन यह दार्जिलिंग और आसपास के इलाकों में जारी रहेगा.

केंद्र के मध्यस्थ और मुक्ति मोर्चा के नेता के बीच ये मुलाक़ात ऐसे वक्त में हुई है, जब अलग राज्य की मांग को लेकर पिछले कुछ दिनों से चल रहा हंगामा शांत होता दिख रहा है.

हालांकि इस दौरान 8 फ़रवरी को आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच हुई झड़प में पुलिस की गोली से घायल हुई एक कार्यकर्ता की मौत हो गई है.

गोरखा नेता से मुलाक़ात के पहले मदान ने दार्जिलिंग और जलपाईगुड़ी के आला अधिकारियों के साथ भी बैठकें की, जिसमें क़ानून व्यवस्था पर चर्चा की गई.

इस बीच, दार्जिलिंग और आसपास के इलाक़ों में हड़ताल जारी है और गोरखा मुक्ति मोर्चो पुलिस फ़ायरिंग की जांच सीबीआई से करवाने की मांग कर रही है.

पुलिस का कहना है कि इलाके में तनाव अभी भी जारी है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार