राहत पर फ़ेमा के तहत मामला

  • 19 फरवरी 2011
राहत फ़तेह अली ख़ान इमेज कॉपीरइट AP
Image caption राहत और उनके सहयोगियों के पास से 1.24 लाख डॉलर की विदेशी मुद्रा बरामद की गई.

पाकिस्तानी गायक राहत फ़तेह अली खान और उनके मैनेजर मारुफ़ पर अब विदेशी मुद्रा प्रंबंधन अधिनियम (फ़ेमा) और कस्टम कानून के तहत मामला चलाया जाएगा.

राजस्व गुप्तचर निदेशालय उनके पास से मिली धन राशि को ज़ब्त कर लेगा और यह मामला हवाईअड्डा प्रभाग के कस्टम आयुक्त के पास भेजा जाएगा.

कानूनी प्रक्रिया के तहत कस्टम आयुक्त उन पर लगे आरोपों की जांच-पड़ताल करेंगे और यह तय करेंगे कि उन पर कितना और तरह का दंड लगाया जाए. राहत और मारुफ़ यह जुर्माना देने के बाद ही भारत छोड़ पाएंगे.

पहली बार नहीं

पाकिस्तान के मशहूर सूफ़ी गायक राहत फ़तेह अली ख़ान और उनके दो सहयोगियों मारूफ़ अली और चित्रेश श्रीवास्तव से राजस्व गुप्तचर निदेशालय के दिल्ली दफ़्तर में शुक्रवार को लंबी पूछताछ हुई थी.

तीनों लोगों से अलग-अलग हुई पूछताछ लगभग दस घंटे तक चलती रही.

उल्लेखनीय है कि 37 वर्षीय गायक राहत फ़तेह अली ख़ान को गत 13 फ़रवरी को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हिरासत में लिया गया था क्योंकि उनके पास निर्धारित सीमा से बहुत अधिक विदेशी मुद्रा मिली थी.

अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने राहत फ़तेह अली ख़ान और उनके सहयोगियों के पास से 1.24 लाख डॉलर की विदेशी मुद्रा बरामद की है.

सूत्रों के अनुसार राहत ये स्वीकार कर चुके हैं कि ये पहली बार नहीं है जब वे निर्धारित सीमा से अधिक विदेशी मुद्रा लेकर यात्रा कर रहे थे. सूत्रों के अनुसार पहले दिए गए अपने बयान में उन्होंने माना है कि इससे पहले भी दो बार वे 40-40 हज़ार डॉलर की राशि लेकर पाकिस्तान जा चुके हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार