मुंबई: अग्निशमक दल में होंगी महिलाएं

  • 21 मार्च 2011
Image caption पुरुषों से भरे इस विभाग में महिलाओं के लिए ये ज़िम्मेदारी निभाना एक नए युग की शुरुआत जैसा है.

बीड़ शहर की रहने वाली 25 वर्षीया लता प्रेम सिंह राठौर बेहद खुश हैं. जल्द ही वो मुंबई फ़ायर ब्रिगेड के इतिहास में पहले ‘फ़ायरवुमन दल' की सदस्य होंगी.

एक कठिन चयन प्रक्रिया के बाद चुनी गईं पहली चार महिला सदस्यों में वो भी शामिल हैं. लता के पिता प्रेम सिंह राठौर भी अपनी 12वीं पास बेटी के साथ मुंबई आए.

वो कहते हैं कि उन्होंने ख़्वाब में भी नहीं सोचा था कि ‘उनकी बेटी इतने बड़े पद पर जाएगी’. प्रेम सिंह राठौर बीड़ में एक किसान हैं.

शारीरिक क्षमता और फ़िटनेस को मापने के लिए हुई इस चयन प्रक्रिया में लता को 800 मीटर की दौड़ को चार मिनट में पूरा करना था, 40 किलो का गोला लेकर भागना था, सीढ़ी पर चढ़ना था साथ ही और भी कई कठिन काम करने थे.

करीब 2000 सदस्यों वाली मुंबई फ़ायर ब्रिगेड में करीब 35 पद महिलाओं के लिए आरक्षित थे जिसके लिए अख़बारों में विज्ञापन दिए गए थे.

पुरुषों से भरे इस विभाग में महिलाओं के लिए अग्निशमन की ज़िम्मेदारी निभाना एक नए युग की शुरुआत जैसा है. इनकी शुरुआती तनख्वाह करीब 15,000 रुपए होगी.

कड़ी ट्रेनिंग

कल इसी प्रक्रिया के ज़रिए स्वाती सतपुटे और शीतल साल्वे का चयन हुआ था.

लता कहती हैं कि उन्हें विश्वास है कि वो अपनी ज़िम्मेदारी अच्छी तरह निभा पाएंगी. नौकरी की शुरुआत से पहले उनकी कड़ी ट्रेनिंग भी होगी.

नगर निगम की अतिरिक्त आयुक्त मनीषा मयस्कर कहती हैं, “करीब 20 साल पहले महाराष्ट्र सरकार ने निर्णय लिया था कि सभी सीधी भर्तियों में महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा. सिर्फ़ फ़ायर ब्रिगेड एक ऐसा विभाग था जिसमें महिलाओं के लिए आरक्षण पर विचार नहीं किया गया था. अब मुंबई फ़ायर ब्रिगेड के इतिहास में पहली बार महिलाओं को आरक्षण देने का निर्णय लिया गया.’’

जिन चार महिलाओं का अभी तक चयन किया गया है उनकी चिकित्सीय परीक्षा और पुलिस रिपोर्ट आनी बाकी है.

अच्छी प्रतिक्रिया

ये पूछे जाने पर कि इस प्रक्रिया को लेकर महिलाओं की प्रतिक्रिया कैसी रही मनीषा कहती हैं, ‘हो सकता है कि हम सभी आरक्षित पद महिलाओं से नहीं भर पाँए, लेकिन ज़रूरी बात ये है कि ये प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है. हमें पूरा विश्वास है कि जब हम अगला विज्ञापन देंगे, तो हमें और अच्छी प्रतिक्रिया मिलेगी.’

उधर भर्ती प्रक्रिया में जुटे उप अग्निशमन अधिकारी एआर पाटिल बताते हैं कि अभी ‘फ़ायरमेन’ और ‘फ़ॉयरवुमेन’ की चयन प्रक्रिया चल रही है. 28 मार्च से पाँच अप्रैल तक सहायक स्टेशन अफ़सरों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू होगी जिसमें 12 महिला अफ़सरों का चयन होना है. इनकी शुरुआती तनख्वाह करीब 22,000 रुपए होगी.

इसके लिए उम्मीदवार का रसायन विज्ञान में स्नातक होना ज़रूरी है और तीसरे साल में 65 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं.

अग्निशमन कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया 18 तारीख तक चलेगी. कल और आज में 14 महिलाओं को चुना जाना था लेकिन अभी तक मात्र चार महिलाओं का चयन हो पाया है. बाकी पदों के लिए पुरुष चुन लिए गए हैं.

संबंधित समाचार