दोरजी खांडू की मौत की पुष्टि

खांडू दोरजी इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption शनिवार की सुबह से खांडू का हेलिकॉप्टर लापता था

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री दोरजी खांडू की मौत हो गई है. चार दिनों से उनका हेलिकॉप्टर लापता था. पाँचवें दिन खोजी दल को दुर्घटनाग्रस्त विमान का मलबा मिला और पाँचों शव भी मिल गए.

भारत के विदेश मंत्रालय ने अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री खांडू दोरजी की मौत की पुष्टि कर दी है.

विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने एक बयान जारी कर मुख्यमंत्री खांडू दोरजी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा,''अरूणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री और भारत के एक महान सपूत के असामयिक निधन का मुझे बेहद अफ़सोस है.वो अरूणाचल प्रदेश की जनता के जीवन की बेहतरी के लिए समर्पित थे. उनकी मौत से अरुणाचल प्रदेश और देश ने एक कुशल प्रशासक और एक बेहतरीन इंसान खो दिया है. उनके परिजनों और उनके दोस्तों के प्रति तहे दिल से मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं.''

बुधवार सुबह से ही तलाशी अभियान में तेज़ी आई और फिर ये सूचना आई कि दुर्घटनाग्रस्त विमान का मलबा मिल गया है और आसपास शव भी देखे गए हैं. गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पत्रकारों को ये बता दिया था कि दुर्घटनाग्रस्त विमान का मलबा मिल गया है.

लापता

शानिवार की सुबह लगभग 10 बजे मुख्यमंत्री दोरजी खांडू सहित पांच लोगों को लेकर पवन हंस का एक हेलिकॉप्टर तवांग से ईटानगर के लिए उड़ा था लेकिन उड़ान के कुछ ही देर बाद हेलिकॉप्टर लापता हो गया था.

हेलिकॉप्टर के पायलट ने उड़ान भरने के 20 मिनट बाद अंतिम बार चीनी सीमा से सटे सेला दर्रे के क़रीब 13,700 फ़ुट की ऊंचाई पर रहते हुए संपर्क साधा था.

इसके बाद से तलाश जारी थी और अब पाँचवें दिन जाकर कामयाबी मिली है.

तलाशी अभियान में नेशनल डिज़ास्टर रिस्पांस फ़ोर्स (एनजीआरएफ़) के 38 कमांडो भी लगाए गए थे.

इसके अलावा 1000 स्थानीय लोग भी तलाशी अभियान में मदद कर रहे थे. लेकिन ख़राब मौसम के कारण खोजी कार्य में मुश्किल आ रही थी.

संबंधित समाचार