सोमवार को शपथ लेंगी जयललिता

जयललिता इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption जयललिता को विधायक दल का नेता चुना गया है

अन्नाद्रमुक नेता जयललिता सोमवार को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगी. रविवार को उन्होंने राज्यपाल सुरजीत सिंह बरनाला से मुलाक़ात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया.

राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने का न्योता दिया और अब सोमवार को दोपहर 12.15 बजे मद्रास यूनिवर्सिटी के ऑडिटोरियम में शपथ ग्रहण समारोह होगा.

राज्यपाल से मुलाक़ात के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत में जयललिता ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता राज्य में क़ानून-व्यवस्था को बहाल करना, राज्य की आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाना और आवश्यक चीज़ों की क़ीमतों को कम करना है.

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में राज्य के लोगों को अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता करने की आवश्यकता नहीं है.

मुश्किल

जयललिता ने पेट्रोल की क़ीमतों में पाँच रुपए की बढ़ोत्तरी को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि इससे लोगों की परेशियानियाँ और बढ़ेंगी.

उन्होंने ये भी बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उन्हें फ़ोन करके जीत पर बधाई दी है. इससे पहले चेन्नई में हुई पार्टी विधायक दल की बैठक में उन्हें नेता चुना गया था.

विधानसभा चुनाव में अन्नाद्रमुक गठबंधन ने 203 सीटों पर जीत हासिल की है, जिनमें अन्नाद्रमुक ने अकेले 150 सीटों पर जीत हासिल की.

द्रमुक गठबंधन को सिर्फ़ 31 सीटें ही मिल पाई.

ममता और चैंडी नेता

इस बीच कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस के विधायक दल की बैठक में ममता बनर्जी को पार्टी विधायक दल का नेता चुन लिया गया है. तो केरल में ओमेन चैंडी कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए हैं.

Image caption ममता बनर्जी भी विधायक दल की नेता चुन ली गई हैं

ये भी उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही ममता बनर्जी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिलने वाली है. तृणमूल कांग्रेस को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ज़बरदस्त सफलता मिली है.

तृणमूल कांग्रेस ने 294 सदस्यीय विधानसभा में अकेले 184 सीटें जीती है जबकि उसकी सहयोगी कांग्रेस पार्टी को 42 सीटें मिली हैं.

संबंधित समाचार