रामदेव से बातचीत नहीं हो रही: मोइली

इमेज कॉपीरइट AP

योग गुरु बाबा रामदेव के अनशन को लेकर गहमागहमी जारी है. शनिवार को श्री श्री रविशंकर ने बाबा रामदेव से मुलाक़ात की और उनसे अनशन तोड़ने का आग्रह किया.

श्री श्री रवि शंकर ने कहा है कि अगर सरकार चाहे तो इस मामले में मदद करने के लिए तैयार हैं. वहीं केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोईली ने स्पष्ट किया है कि सरकार बाबा रामदेव के साथ किसी भी स्तर पर बातचीत नहीं कर रही है.

हरिद्वार में अनशन पर बैठे रामदेव की हालत बिगड़ने के बाद उन्हें शुक्रवार को एंबुलेंस के ज़रिए देहरादून लाया गया और अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. वहाँ उन्हें गूलोकोज़ चढ़ाया गया था.

अनशन जारी

इमेज कॉपीरइट AP

शनिवार शाम को डॉक्टरों ने कहा था कि रामदेव की हालत स्थिर है हालांकि उनका रक्त चाप गिर रहा है. उन्हें इंटेसिव केयर यूनिट से एक वीआईपी कमरे में शिफ़्ट कर दिया गया है.

रामदेव से मिलने के बाद श्री श्री रविशंकर ने कहा, “बाबा रामदेव ने मुझसे बात की. वे कमज़ोर हो गए हैं. मैने उनसे अनुरोध किया कि वे अनशन तोड़ दें. बाबा ने अनशन करने वाले अन्य लोगों से कहा है कि वे शहद और नींबू का सेवन करें.”

बाबा रामदेव ने चार जून को दिल्ली में अपना अनशन शुरु किया था. लेकिन रात को दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई कर उन्हें वहाँ से हटा कर देहरादून भेज दिया था. इस पुलिस कार्रवाई की बहुत लोगों ने निंद की थी.

संबंधित समाचार