'माओवादी पॉलितब्यूरो सदस्य' गिरफ़्तार

  • 12 जून 2011
माओवादी बंद
Image caption माओवादियों ने गिरफ़्तारी के खिलाफ़ 16 जून को 24 घंटे के बंद का आह्वाहन किया है.

बिहार पुलिस ने माओवादी पार्टी के एक अहम नेता और पॉलितब्यूरो सदस्य जगदीश मास्टर को गिरफ़्तार कर लिया है.

गया ज़िले के पुलिस अधीक्षक विनय कुमार ने बीबीसी को बताया कि पुलिस ने पॉलितब्यूरो सदस्य जगदीश यादव उर्फ़ जगदीश मास्टर उर्फ़ भूपेश को गिरफ़्तार किया है. हालाँकि उन्होंने इस बारे में और ज़्यादा जानकारी देने से इंकार कर दिया.

विनय कुमार ने बताया कि फ़िलहाल जगदीश मास्टर से पूछताछ चल रही है.

बीबीसी के पास प्राप्त सूचना के मुताबिक़ 80-वर्ष के जगदीश मास्टर को ज़िले के गुरारू इलाक़े से गिरफ़्तार किया गया है जहाँ वो इलाज के सिलसिले में गए हुए थे.

इसके बाद कोबाड गाँधी समेत भारत की कम्यूनिस्ट पार्टी माओवादी के आठ सदस्य पुलिस की गिरफ़्त में मौजूद हैं.

'मुठभेड़ का डर'

उधर माओवादी प्रवक्ता गोपाल ने कहा है कि जगदीश मास्टर को पुलिस ने शनिवार को गिरफ़्तार किया था.

माओवादी प्रवक्ता ने उन्हें अदालत में पेश न किए जाने को लेकर चिंता जताई थी और रविवार की सुबह कहा था कि डर है कि उन्हें झूठे मुठभेड़ में मारा जा सकता है.

Image caption पॉलितब्यूरो सदस्य कोबाड गाँधी

गोपाल ने आरोप लगाया, "पहले भी पुलिस हमारे लोगों को झूठे मुठभेड़ों में हत्या करती आई है."

गोपाल के मुताबिक जगदीश की उम्र क़रीब 80 साल है और वो कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे और इलाज के सिलसिले में गुरारू गए थे जहाँ सादे कपड़ों में तैनात पुलिसवालों ने उन्हें गिरफ़्तार कर लिया.

माओवादियों ने ग़िरफ़्तारी के विरोध में 16 जून को 24 घंटों के बिहार, झारखंड और उत्तरी छत्तीसगढ़ बंद का एलान किया है.

गोपाल का कहना था कि जगदीश पिछले चार दशक से माओवादी ‘संघर्ष’ से जुड़े हुए थे.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार