बलात्कार के बाद हत्या का एक और मामला

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption प्रदेश में महिलाओं की नृशंस ह्त्या और बलात्कार के लगातार कई मामले सामने आए हैं.

उत्तर प्रदेश में एक और बच्ची बलात्कार के बाद जान से मार दी गयी है. यह घटना राजधानी लखनऊ से सटे सीतापुर ज़िले की है.

सीतापुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बलवंत राय ने बताया कि ज़िला मुख्यालय से करीब साठ किलोमीटर दूर सदरपुर थाने के गजना गाँव में शरफुद्दीन की बारह साल की नाबालिग बेटी की लाश सोमवार की शाम गन्ने के खेत से बरामद हुई.

लड़की के मुंह में कपड़ा ठुंसा हुआ था, गले में फंदा लगा था और कपड़ों पर खून के धब्बे थे.

पुलिस अधिकारी बलवंत राय के अनुसार बच्ची के साथ बलात्कार के बाद उसकी ह्त्या हुई.

पिता शरफुद्दीन के अनुसार उनकी बेटी अपने छोटे भाई के साथ मदरसे में पढ़ने गयी थी. वापसी में पानी बरसने लगा और वह भाई से पीछे छूट गयी.

कुछ देर बाद वह नहीं आई तो घर के लोग ढूँढने निकले. काफी मुश्किल के बाद गन्ने के खेत से उसकी लाश मिली.

लड़की के पिता ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा लिखाया है.

कई मामले

इससे पहले प्रदेश के कई अन्य स्थानों में भी महिलाओं की ह्त्या और बलात्कार के मामले दर्ज कराए गए हैं.

एक अत्यधिक भयावह घटना में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एटा जिले का सभापुर ग्राम में अपराधियों ने एक युवती के साथ बलात्कार के बाद उसे ज़िंदा जला दिया.

मृत युवती अनारकली अपने घर के बाहर ही थी. पांच लोग आये और युवती का गला दबाकर घर के अंदर ले गए. इन लोगों ने युवती के साथ जबरन दुराचार किया. अपराधियों ने पीड़ित युवती के ऊपर मिटटी का तेल छिड़क कर आग लगा दी. विशेष पुलिस महा निदेशक बृज लाल ने बताया कि अनारकली ने मृत्यु से पूर्व मजिस्ट्रेट को दिए गए बयान में कथित बलात्कारी की पहचान बतायी है.

पुलिस ने काफी हीलाहवाली के बाद रपट लिख ली है.

पुलिस के अनुसार गोंडा के करनैलगंज थाने में रविवार को एक युवती की लाश खेत से मिली. परिवार के लोगों ने तीन लोगों के खिलाफ बलात्कार और ह्त्या का नामजद मुकदमा लिखाया है. इनमे से दो गिरफ्तार कर लिए गए हैं. सहारनपुर ने एक पैसेंजर ट्रेन से युवती की लाश मिली है. संदेह है कि युवती के साथ दुराचार के बाद उसकी ह्त्या कर दी गयी.

आँखों में चाक़ू घोंपा

फरुखाबाद जिले में एक महिला गुड्डी देवी रात में अपने पति के पप्पू यादव के साथ नौटंकी देखकर वापस आ रही थी. गाँव के ही तीन लोगों ने गुड्डी देवी के साथ छेड़छाड़ की. पति ने विरोध किया तो बदमाशों ने गोली मार दी, जो महिला के गले में लगी है. महिला के पति के एक लकडी से हमलावरों पर जवाबी मार किया , जिसमे एक हमलावर की मौत हो गयी. महिला अस्पताल में भर्ती है.

पुलिस के अनुसार फिरोजाबाद के सिरसागंज थाने के एक गाँव में एक नाबालिग युवती के साथ बलात्कार हुआ. बलात्कार के दोनों आरोपी उसी गाँव के हैं. एक अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पुलिस का कहना है कि शनिवार को बस्ती जिले में दलित युवती के साथ बलात्कार करने वाले एक दबंग को गिरफ्तार कर लिया गया है.

कन्नौज में भी एक युवती के साथ दुराचार की कोशिश में असफल रहने के बाद उसकी आँखों में चाक़ू घोंपने के दूसरे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

लेकिन पिछले दिनों लखीमपुर में एक युवती के साथ थाने में दुराचार के प्रयास के बाद उसकी ह्त्या करने वाले अभी तक फरार हैं.

दिल्ली के करीब बागपत ज़िले में कल रात एक अधेड़ व्यक्ति की गोली मारकर ह्त्या कर दी गयी क्योंकि वह अपनी भतीजी के साथ बलात्कार करने वालों को सजा दिलाने के लिए मेरठ में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से गुहार करने गया था.

'सरकार नाकाम'

विधान सभा में विपक्षी सामजवादी पार्टी के नेता शिव पाल यादव, भारतीय जनता उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता जोशी ने अलग अलग बयान जारी करके कहा है कि उत्तर प्रदेश में मायावती सरकार अपराधों की रोक थाम में नाकाम है और सत्तारुढ़ बहुजन समाज पार्टी के नाजायज़ हस्तक्षेप से पुलिस अपना कम नहीं कर पा रही है.

लेकिन सरकार के प्रवक्ता सूचना सचिव प्रशांत त्रिवेदी ने सफाई देते हुए कहा कि जो कुछ संभव है किया जा रहा है.

त्रिवेदी ने मीडिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि इन सब घटनाओं को जोड़कर निष्कर्ष न निकालें. जो कुछ संभव है किया जा रहा है.

त्रिवेदी के अनुसार यह कहना गलत है कि उत्तर प्रदेश में प्रशासनिक ढिलाई हो रही है, लेकिन विपक्ष इन तर्कों से संतुष्ट नहीं है और मुख्यमंत्री मायावती ने अभी तक सफाई देना ज़रूरी नहीं समझा है.

अपराधों पर नियंत्रण मायावती का मुख्य चुनावी मुद्दा था, लेकिन जो माहौल है उसे देखते हुए लगता ही नही कि अब वह कानून व्यवस्था में सुधार और अपराधों पर नियंत्रण के लिए चिंतित हैं.

संबंधित समाचार