छत्तीसगढ़ में 12 लोगों की मौत

फाइल फोटो इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption भारत में बड़ी संख्या में लोग दिहाड़ी मज़दूरी करते हैं.

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में पुलिस अधीक्षक के बंगले की दीवार ढह जाने से कम से कम 12 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि 20 लोग घायल बताए जाते हैं.

यह घटना सुबह की है जब मूसलाधार बारिश से बचने के लिए लोग एसपी के बंगले के पास बने एक शेड में खड़े थे. तभी बंगले की दीवार गिर गई और वहां खड़े लोग उसके नीचे दब गए.

पुलिस का कहना है कि आठ लोग घटना स्थल पर ही मारे गए जबकि बड़ी मुश्किल से कुछ लोगों को निकाला जा सका. गंभीर रूप से घायल चार लोगों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

एसपी का बंगला काफी पुराना भवन है और उसकी चहारदीवारी काफी कमज़ोर थी.

अमूमन बरसात शुरू होने से पहले पुराने सरकारी भवनों की मरम्मत का काम कराया जाता है मगर अधिकारी यह बोलने की स्थिति में नहीं हैं कि बंगले की जर्जर दीवार की मरम्मत का काम क्यों नहीं करवाया गया.

सुबह अचानक तेज़ बारिश की वजह से उस शेड के नीचे लगभग 40 लोगों ने शरण ली थी.

पुराने सर्किट हॉउस को पुलिस अधीक्षक के बंगले के रूप में तब्दील किया गया है और बंगले के चारों तरफ दीवार खड़ी की गई है. दीवार सड़क से लगी हुई है तो उसके किनारे छोटे छोटे शेड भी बने हुए हैं.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने हादसे में मारे गए लोगों को एक एक लाख रूपए बतौर मुआवजा देने की घोषणा की है जब कि घायलों को 25 हज़ार रूपए देने की बात कही है. राज्य सरकार नें मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं.

घटना के बाद पंचायत राज मंत्री राम विचार नेताम घटना स्थल पर पहुंचे और उन्होंने अस्पताल जाकर घायलों से बातचीत की.

संबंधित समाचार