भोपाल में आरटीआई कार्यकर्ता की हत्या

  • 16 अगस्त 2011
शेहला मसूद इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption शेहला मसूद की हत्या उनके घर के बाहर कार में दाख़िल होते वक़्त की गई.

भोपाल में सूचना के अधिकार के लिए काम करने वाली एक कार्यकर्ता शेहला मसूद की कोह-ए-फ़िज़ा इलाक़े में उनके घर पर गोली मार कर हत्या कर दी गई है.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आदर्श कटियार ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “शेहला मसूद को सुबह 11 बजे एक अनजान व्यक्ति ने उनके घर के बाहर उस समय गोली मारी जब वो अपनी कार में बैठने जा रही थीं.”

पुलिस अधिकारी ने कहा कि हत्या के कारण और अन्य विवरण अभी सामने नहीं आए हैं और पुलिस गोली चलाने वाले व्यक्ति को पकड़ने की कोशिश में लगी है.

बाघों की मौत से जुड़े मुद्दे उठाए थे

शेहला मसूद हाल ही में अन्ना हज़ारे के समर्थन में अनशन पर भी बैठी थीं. वे मध्य प्रदेश में बाघों की मौत से जुड़े मुद्दे भी उठाती रही थीं.

मध्य प्रदेश के पुलिस महानिदेशक एके राउत शेहला मसूद को घर पर गए और उनके रिश्तेदारों में मुलाक़ात की. उनके घर पर पुलिस की तैनाती भी की गई है.

महानिदेशक के साथ आईजी शैलेंद्र श्रीवास्तव भी थे. श्रीवास्तव ने यक़ीन दिलाया कि हत्यारे को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा.

उन्होंने कहा, “मुझे यक़ीन है कि इस हत्या की गुत्थी जल्द ही सुलझ जाएगी. ”

उधर मध्य प्रेदश विधानसभा में विपक्ष के नेता अजय सिंह ने कहा कि दिनदहाड़े हुई हत्या भोपाल की कानून व्यवस्था के चरमराने का संकेत है.

संबंधित समाचार