दिग्विजय ने दी हज़ारे को बधाई

दिग्विजय सिंह इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption दिग्विजय सिंह अन्ना हज़ारे के खिलाफ़ सीधे कोई बयान देने से बचते रहे हैं

कांग्रेस महासचिव और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अन्ना हज़ारे को बधाई देते हुए कहा है कि हज़ारे ने आरएसएस के स्वयंसेवकों को काली की जगह सफ़ेद टोपी पहना दी.

कांग्रेस महासचिव ने अपने गृहप्रदेश के राघोगढ़ में पत्रकारों को बताया कि अन्ना हज़ारे इसलिए भी बधाई के पात्र हैं क्योंकि उन्होंने कट्टरवादी हिन्दू संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोगों के हाथों में भगवा झंडे की जगह तिरंगा झंडे पकड़ा दिए.

सिंह ने इस बात से इंकार किया कि उन्होंने अन्ना हज़ारे को कभी आरएसएस का मुखौटा कहा था.

'अमर सिंह से सहानूभूति'

दस सालों तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे दिग्विजय सिंह ने वोट के बदले नोट मामले में तिहाड़ में बंद राज्य सभा सदस्य अमर सिंह के साथ उन्हें पूरी सहानुभूति है. उन्होंने आशा जताई कि अमर सिंह अपने आप को बेगुनाह साबित कर लेंगे.

दिग्विजय सिंह में बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट के सामने हुए धमाकों की निंदा करते हुए कहा है कि इन धमाकों पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए.

उन्होंने कहा की चरमपंथी किसी भी धर्म के हों उन पर कड़ी कारवाई की जानी चाहिए.

दिग्विजय सिंह अपने बयानों के कारण हमेशा चर्चा में रहते हैं.

जब उनकी पार्टी बाबा रामदेव के आंदोलन से जूझ रही थी तब दिग्विजय सिंह ने उन पर हमला बोल दिया था.

सिंह ने रामदेव को चुनौती दी थी कि वो अपनी संपत्ति की जांच एक स्वतंत्र आयोग से कराएँ. सिंह ने कहा था कि वो खुद भी उसी आयोग से अपनी संपत्ति की जांच करने के लिए तैयार हैं.

इसके पहले दिग्विजय सिंह ने ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के बाद अपने एक बयान में ओसामा को समुद्र में दफ़नाए जाने की निंदा करते हुए कहा था कि 'ओसामा जी' के साथ ऐसा नहीं किया जाना चाहिए था.

संबंधित समाचार