चीनी जनरल का 'बिगड़ैल बेटा' अब जेल में

  • 16 सितंबर 2011
चीन की सड़कें इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 'रोड रेज' मामले ने चीनी समाज में बढ़ रही खाई को फिर से उजागर कर दिया है.

चीन की सरकारी मीडिया के अनुसार देश के एक लोकप्रिय जनरल के बेटे को सड़क पर हुए झगड़े (रोड रेज) के मामले में एक साल की सज़ा सुना दी गई है.

इस घटना की आम लोगों ने काफी निंदा की थी. सेनाध्यक्ष का बेटा केवल 15 साल का है और उस पर आरोप है कि उसने सड़क पर एक दंपत्ति के साथ दुर्व्यवहार किया था.

इस मामले ने एक बार फिर चीन के अभिजात्य वर्ग के तौर तरीक़ों पर आम लोगों के बढ़ते ग़ुस्से को चर्चा में ला खड़ा कर दिया है.

पिछले सप्ताह चीन में इंटरनेट के इस्तेमाल करने वाले हज़ारों लोगों ने ली तियानी के व्यवहार का विरोध करते हुए काफ़ी सारी टिप्पणियाँ की थीं.

ली तियानी के पिता ली शुआंगजियांग सबसे जाने माने सेना के अधिकारियों में से एक हैं. उन्हें टेलिविज़न पर राष्ट्रभक्ति के गीत गाने के लिए ख़ूब जाना जाता है.

उनका 15 साल का बेटा क़ानूनी तौर पर गाड़ी नहीं चला सकता था लेकिन इसके बावजूद वो बीजींग में एक बेहद मंहगी गाड़ी बी एम डब्लू चला रहा था.

उस समय गाड़ी में लाइसेंस प्लेट भी नहीं था.

उसी समय गाड़ी चला रहे एक बुज़ुर्ग दंपत्ति ली तियानी की गाड़ी के सामने आ गए.

क़ानून से उपर

ली तियानी और एक दूसरा नवयुवक जो कि एक और बड़ी मंहगी गाड़ी में था, दोनों अपनी गाड़ियों से बाहर लपके और बताया जा रहा है कि उन दोनों ने उस बुज़ुर्ग दंपंति के साथ दुर्व्यवहार किया.

आसपास खड़े लोगों पर चीख़ते हुए बोले कि पुलिस को बुलाने की हिमाक़त न करना.

चीन में कई लोग इस व्यवहार को धनी और ताक़तवर लोगों के बच्चों के उस तेवर का उदहारण समझते जिसमें वे ख़ुद को क़ानून से उपर समझते हैं.

ग़लती

चीन की एक समाचार एजेंसी के अनुसार 15 साल के ली तियानी ने अपनी ग़लती मान ली है और अब वो एक साल अपनी ग़लती का प्रायष्चित करेंगे.

पिछले साल एक और मामले पर सार्वजनिक स्तर पर लोगों का ग़ुस्सा फूट पड़ा था.

उस मामले में भी एक पुलिस अफ़सर का बेटा शराब पीकर गाड़ी चला रहा था और एक छात्र उसकी गाड़ी से मारा गया. उस व्यक्ति का नाम ली किमिंग था.

उसपर आरोप है कि दुर्घटनास्थल से निकलने से पहले उसने वहां खड़े लोगों को धमकाया ये कहते हुए कि 'मेरे पिता ली गैंग हैं'.

ये जुमला उसके बाद इंटरनेट पर काफी प्रचलित हो गया था जिसे सत्ताधारी वर्ग के प्रति आम लोगों के ग़ुस्से के तौर पर देखा गया था.

ली किमिंग को छह साल की जेल हुई थी.

ताज़ा घटना में ली तियानी और उसके पिता ने आम लोगों के गुस्से को कम करने के लिए तुरंत माफ़ी मांग ली है.

संबंधित समाचार