लोकपाल समिति की ऑडियो रिकार्डिंग जारी होगी

अन्ना हज़ारे इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अन्ना हज़ारे की मांग है कि शीतकालीन सत्र में लोकपाल विधेयक संसद में पारित किया जाए.

सरकार लोकपाल विधेयक का मसौदा तैयार करने के लिए नागरिक समाज और सरकार के मंत्रियों की संयुक्त समिति की बैठकों की ऑडियो रिकॉर्डिंग सार्वजनिक करने के लिए तैयार हो गई है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ एक सूचनाधिकार कार्यकर्ता के सूचना आवेदन पत्र के जवाब में कर्मचारी व प्रशिक्षण विभाग के उप-सचिव अमरजीत सिंह ने लिखा है, "संयुक्त ड्राफ़्ट समिति की बैठकों की ऑडियो रिकॉर्डिंग उपलब्ध करवा दी गई हैं. आवेदनकर्ता को कुल नौ ऑडियो सीडी के लिए 450 रुपए का भुगतान करना होगा, जिसके बाद ये सीडी उन्हें उपलब्ध करवा दी जाएंगीं."

इस संयुक्त समिति में टीम अन्ना के पांच सदस्यों के अलावा पांच कैबिनेट के मंत्री शामिल थे.

इससे पहले कर्मचारी व प्रशिक्षण विभाग ने समिति में हुई चर्चा की ऑडियो रिकॉर्डिंग को सार्वजनिक करने से इनकार कर दिया था.

सूचना आवेदन के जवाब में विभाग ने कहा था कि ऑडियो रिकॉर्डिंग सार्वजनिक करने के लिए उसे क़ानून मंत्रालय की इजाज़त की ज़रूरत होगी.

ग़ौरतलब है कि अन्ना हज़ारे की मांग है कि शीतकालीन सत्र में लोकपाल विधेयक संसद में पारित किया जाना चाहिए.

अन्ना हज़ारे की ओर से कांग्रेस के ख़िलाफ़ प्रचार की चुनौती के बीच केंद्रीय मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने हाल ही में कहा था कि सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में लोकपाल विधेयक पेश करने के लिए प्रतिबद्ध है.

उन्होंने कहा कि टीम अन्ना से जिन तीन मुद्दों पर सहमति बनी थी उसके अनुरूप ही सरकार विधेयक पेश करेगी.

संबंधित समाचार