ममता का माओवादियों को सात दिन का अल्टीमेटम

  • 15 अक्तूबर 2011
ममता बनर्जी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ममता बनर्जी ने कहा कि अब हिंसा सहन नहीं की जाएगी.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को झाड़ग्राम में एक रैली को संबोधित करते हुए माओवादियों को सात दिन के भीतर हथियार डालने का अल्टीमेटम दिया है.

ममता बनर्जी ने कहा कि उनकी सरकार हिंसा सहन नहीं करेगी.

रैली में दिए गए अपने भाषण में उन्होंने कहा, “मैं आपको सात दिनों के भीतर हथियार डालने का अल्टीमेटम दे रही हूं. इसपर विचार करें. हम और हिंसा सहन नहीं करेंगे. मार-काट और वार्ता एक साथ नहीं चल सकते.”

माओवादियों पर कड़ा प्रहार करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, “उनकी कोई विचारधार नहीं. वो लोग सुपारी लेकर हत्या करने वालों जैसे हैं, एक तरह का जंगल माफ़िया हैं. हमने शांति प्रक्रिया शुरू की है.

हम वार्ताएं करते रहेंगे लेकिन उन्हें इसके लिए हथियार डालने होंगे. ”मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर जंगलमहल में शांति हो जाती है तो संयुक्त सुरक्षा ऑपरेशन की ज़रुरत नहीं पड़ेगी.

उन्होंने माओवादियों से पूछा कि उन्हें आख़िर चाहिए क्या, “हम आपको स्कूल, कॉलेज, सड़कें, नौकरियां सबकुछ देंगे. वार्ताओं के लिए दरवाज़े अब भी खुल हैं लेकिन हम और हिंसा बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे.”

इस क्षेत्र में मारे गए एक तृणमूल कांग्रेस नेता लालमोहन महतो के तीन महीने के बच्चे को गोद में लिए हुए ममता ने कहा, “आप ममता बनर्जी के मारना चाहते हैं? मुझे बताईए कहां मारना चाहते हैं..मेरे साथ कोई पुलिसकर्मी नहीं होगा. ”

उन्होंने जंगलमहल क्षेत्र के लिए कई विकास परियोजनाओं का भी ऐलान किया है.